यूके एयरलाइन ने महिला से पूरा तन ढकने को कहा, फिर माफी मांगी

0
89

लंदन : ब्रिटेन की एक हवाई कंपनी ने 21 वर्षीय महिला यात्री को कम कपड़े में सफर करने पर धमकाया और विवाद उठने पर उससे माफी मांग ली।

मीडिया में आई खबरों के अनुसार, विमान में चढ़ने के बाद महिला को सलीकेदार कपड़े नहीं पहनने पर धमकाया गया और उसे विमान से उतरने को कहा गया।

सीएनएन की बुधवार की एक रिपोर्ट के अनुसार, एमिली ओकोन्नोर 2 मार्च को यूके के बर्मिघम एयरपोर्ट से टेनेरिफ आईलैंड जाने के लिए थॉमस कुक एयरलाइन के विमान में चढ़ी थी। इस दौरान विमान के क्रू सदस्यों ने उससे कहा कि उसका परिधान हिंसा की वजह बन सकता है।

महिला ने क्रॉप टॉप और पैंट पहन रखी थी।

एमिली ने कहा, मेरे कपड़ों को लेकर हवाईअड्डे से ही मुझे चेतावनी दी जा रही थी और विमान में प्रवेश करने तक बार-बार टोका गया। क्रू सदस्यों ने मुझे खुद को पूरी तरह से ढकने को कहा।

उसने कहा कि विमान का मैनेजर अपने चार अन्य सदस्यों के साथ उसके पास पहुंचे। उसे जैकेट पहनने को कहा और धमकी दी कि विमान से उतार दिया जाएगा।

सीएनएन ने बताया कि बुधवार को थॉमस कुक एयरलाइन ने एमिली ओकोन्नोर से माफी मांगते हुए केबिन सर्विस के निर्देशक को इस मामले से संबंधित और जानकारी जुटाने का निर्देश दिया।

थॉमस कुक एयरलाइन ने एक बयान जारी कर एमिली से विमान मैनेजर के रवैये के लिए माफी मांगते हुए कहा कि परिस्थिति को और बेहतर तरीके से संभाला जा सकता था।

एयरलाइन की ओर से कहा गया, साधारण तौर पर कई हवाई कंपनियों ने यात्रियों के परिधान को लेकर अपने अलग-अलग नियम बनाए हैं। यह पुरुष व महिला दोनों पर समान रूप से लागू होता है। ऐसे में हमारे क्रू सदस्यों के लिए यह काफी कठिन होता है कि वे इसका पालन यात्रियों से करवा सकें। ऐसे में कई बार हालात बिगड़ जाते हैं।

इस हवाई कंपनी के परिधान संबंधी नीति के तहत यात्री किसी भी ऐसे परिधान को पहनकर विमान में नहीं चढ़ सकते हैं, जिससे हिसा फैलने का खतरा हो।