पूरे देश में शान से लहराया तिरंगा !

0
821

नई दिल्ली : आजादी की 70वीं वर्षगांठ सोमवार को शांति और उल्लास के साथ मनाई गई, लेकिन मणिपुर में बम विस्फोट और कश्मीर में आतंकवादी हमले में अर्धसैनिक बल का एक जवान प्रमोद कुमार शहीद हो गया. वह बिहार का रहने वाला था. देशभर में लोग देशभक्ति में मग्न रहे, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली में लालकिले के प्राचीर से और विभिन्न राज्यों में मुख्यमंत्रियों ने स्वतंत्रता दिवस समारोह में लोगों को संबोधित किया.
कई सरकारों ने इस अवसर पर नई योजनाओं की घोषणा की. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में न्यूनतम मजदूरी में 50 फीसदी बढ़ोतरी की घोषणा की. आजादी के बाद से ही दिल्ली के लालकिले पर इस अवसर पर मुख्य समारोह का आयोजन किया जाता रहा है, जिसमें बड़ी संख्या में लोग प्रधानमंत्री को सुनने के लिए जुटते हैं.
प्रधानमंत्री मोदी ने अपने 90 मिनट लंबे संबोधन में लोगों से सामाजिक और धार्मिक विभाजन को पाटने की अपील की, ताकि देश ताकतवर बने. उन्होंने कहा कि हर नागरिक को समाज में जाति और धर्म के आधार पर व्याप्त भेदभाव के खिलाफ लड़ना चाहिए. हमें हर किसी को साथ लाना है, चाहे वह दलित हो, आदिवासी हो या फिर वित्तीय रूप से कमजोर वर्ग के नागरिक हों.
दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने न्यूनतम मजदूरी बढ़ाने की घोषणा के साथ प्रधानमंत्री से इस योजना को देशभर में लागू करने की गुजारिश की. केजरीवाल ने लोगों से खचाखच भरे राष्ट्रीय राजधानी के छत्रसाल स्टेडियम में अपने संबोधन में कहा कि जिन्हें जीवन में कम मिला है, उन्हें कानूनन ज्यादा मिलना चाहिए. इसलिए हमने दिल्ली में न्यूनतम मजदूरी में 50 फीसदी बढ़ोतरी का फैसला किया है.
दिल्ली में आतंकवादी खतरों के बीच सरकारी अधिकारियों ने शहरभर में सुरक्षा व्यवस्था काफी चुस्त रखी. खासतौर से लालकिले के आसपास के इलाकों में ऐसे इंतजाम किए गए कि कोई परिंदा तक पर न मार सके. खोजी कुत्ते और एंटीएयरक्राफ्ट गन की तैनाती की गई. लगा, समूचा इलाका छावनी में तब्दील हो गया है. वहीं, अशांत कश्मीर घाटी में भी कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई. लेकिन आतंकवादियों ने ओल्ड सिटी एरिया (नौहट्टा) में अर्धसैनिक बलों पर हमला किया, जिसमें केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के कमांडेंट प्रमोद कुमार शहीद हो गया. वह पटना जिले में बख्तियारपुर के समीप हकीकतपुर का रहने वाला था. पुलिस ने बताया कि इस झड़प में दो आतंकवादियों को भी धर-दबोचा गया.
मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कश्मीर घाटी में शांति की अपील की. वहां 8 जुलाई को एक आतंकवादी कमांडर की हत्या के बाद से अशांति है. हिंसा में अब तक 56 लोग मारे जा चुके हैं और हजारों घायल हुए हैं. अलगाववादी नेताओं द्वारा घाटी में बंद के आह्वान के बाद राजधानी श्रीनगर सुनसान नजर आया. यहां पिछले पांच हफ्तों से कर्फ्यू जारी है.
उत्तरपूर्वी राज्य मिजोरम में मुख्यमंत्री ललथन हवला ने कहा कि यह देश का सबसे शांतिपूर्ण राज्य है जो सतत विकास के पथ पर अग्रसर है. त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक सरकार ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि वह राज्यों के सभी अधिकार छीनने की कोशिश कर रही है और राज्यों को भीख मांगने पर मजबूर करने पर आमादा है.
मुंबई में मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन और शहीदों को याद किया. हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने महंगाई भत्ते (डीए) में 6 फीसदी बढ़ोतरी की घोषणा की जो इस साल के 1 जनवरी से लागू होगा. हरियाणा में राज्यपाल किरण पाल सिंह को ध्वजारोहण के बाद उमस और गर्मी के कारण स्वतंत्रता दिवस के परेड के निरीक्षण के दौरान चक्कर आ गया. दक्षिणी राज्यों में केरल के मुख्यमंत्री पिनारई विजयन ने सोमवार को राज्य के लोगों से कट्टरपंथियों के खिलाफ चौकस रहने और लोगों से विध्वसंक विचारों और गतिविधियों के खिलाफ खड़े होने की अपील की.
उन्होंने कहा कि मैं इस मौके का इस्तेमाल लोगों को कुछ ऐसे लोगों से सावधान रहने के लिए करना चाहता हूं जो आध्यात्मिकता को झूठी आध्यात्मिकता के रूप में और धर्म को सांप्रदायिकता के रूप में इस्तेमाल करते हैं. इस पर हमें सावधानी से नजर रखनी है. उन्होंने माता-पिता और घर के बड़ों से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि शिक्षा संस्थानों में जाने वाले छात्र और धार्मिक जगहों पर जाने वाले धार्मिक कट्टरवाद और अवांछनीय गतिविधियों का रास्ता नहीं अपनाएं.
कर्नाटक में उल्लास और देशभक्ति के जोश के साथ सोमवार को 70वां स्वाधीनता दिवस मनाया गया. बेंगलुरू में मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने शहर के मध्य स्थित फील्ड मार्शल मानेकशॉ परेड मैदान में राष्ट्रध्वज फहराया, गारद और अन्य पलटनों का निरीक्षण किया. तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई में स्वतंत्रता दिवस के मौके पर फोर्ट सेंट जॉर्ज पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने के बाद जयललिता ने कहा, “इस दिन हम उन्हें सलाम करते हैं, जिन्होंने देश की आजादी के लिए लड़ाई लड़ी. स्वतंत्रता का मतलब केवल बोलने और लिखने की आजादी नहीं है. सच्ची स्वतंत्रता आर्थिक स्वतंत्रता पर टिकी हुई है. अपनी सरकार द्वारा शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में लागू की गई विभिन्न योजनाओं के बारे में बताते हुए जयललिता ने स्वतंत्रता सेनानियों और उनके परिवारों के पेंशन भुगतान में वृद्धि की घोषणा की.
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने 70वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर विधानसभा परिसर में तिरंगा फहराया. इस मौके पर उन्होंने कहा, “हम बहुत खुशी और हर्ष के साथ स्वतंत्रता दिवस मना रहे हैं. हमें सोचना पड़ेगा कि जिन मूल्यों को लेकर आजादी दिलाई गई हम उस पर कितने खरे उतरे हैं.” पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इंदिरा गांधी सरणी में तिरंगा फहराया. ममता बनर्जी ने एक गारद का निरीक्षण किया, जबकि शहर और राज्य पुलिस तथा एनसीसी कैडेट ने परेड में हिस्सा लिया. इस अवसर पर राज्य के विभिन्न भागों से आई लोक नृत्य मंडलियों ने रंगारंगा प्रस्तुतियां दीं.
मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में मुख्य समारोह मोतीलाल नेहरू स्टेडियम में आयोजित किया गया, जहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली. इस आयोजन में हिस्सा लेने पहुंचे जवानों से लेकर स्कूली बच्चों में गजब का उत्साह था. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर सिरसा शहर में राष्ट्रध्वज फहराया और स्वतंत्रता सेनानियों को याद किया. केसरिया पगड़ी और केसरिया जैकेट पहने खट्टर ने कहा कि राज्य के शहीदों के बलिदान की वीरगाथा को आने वाली पीढ़ियों के लिए संरक्षित करने के लिए राज्य सरकार अंबाला में अंतर्राष्ट्रीय स्तर का युद्ध स्मारक बना रही है. उन्होंने अपने संदेश में कहा कि देशभक्ति के एक प्रतीक रूप में यह स्मारक युवाओं को देश की सेवा की खातिर अपनी जान कुर्बान करने को प्रेरित करता रहेगा.
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पटना के गांधी मैदान में तिरंगा फहराया. अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि राज्य में कानून का राज कायम है. अब और 2437 पुलिस कंट्रोल रूम खोले जाएंगे. सात निश्चयों में से पहला निश्चय पूरा हो गया है. नौकरियों में महिलाओं के लिए 35 फीसदी आरक्षण तय कर दिया गया है. हर घर में बिजली पहुंचाने के लिए 1900 करोड़ रुपये मंजूर किए गए हैं. राज्य का विकास दर 10 फीसदी तक पहुंच गई है. इसके अलावा पंजाब, आंध्रप्रदेश, तेलंगाना, गोवा, छत्तीसगढ़, गुजरात, झारखंड, पुडुच्चेरी और अंडमान निकोबार में भी स्वतंत्रता दिवस समारोह हर्षोल्लास से मनाया गया.