टीसीएस, इंफोसिस में भर्तियां 350 फीसदी बढ़ीं

0
573

बेंगलुरू : विभिन्न क्षेत्रों में नौकरियों में आई गिरावट के बीच वित्त वर्ष 2018-19 में प्रमुख आईटी कंपनियां टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) और इंफोसिस ने इसके पिछले वित्त वर्ष की तुलना में 42,000 अधिक तकनीकी कामगारों को नौकरियों पर रखा है, जो कि नई भर्तियों में 350 फीसदी से ज्यादा की वृद्धि है।

फॉर्चून द्वारा इसी हफ्ते जारी रपट में कहा गया है कि मुंबई स्थित मुख्यालय वाली टीसीएस ने 31 मार्च को समाप्त वित्त वर्ष में 29,287 कर्मचारियों की भर्तियां कीं, जबकि बेंगलुरू की इंफोसिस ने 24,016 सॉफ्टवेयर पेशेवरों को जोड़ा।

वित्त वर्ष 2018-19 में इन दोनों कंपनियों ने 53,303 नए कर्मचारी जोड़े, जबकि वित्त वर्ष 2017-18 में दोनों कंपनियों ने कुल 11,500 नए कर्मचारियों की भर्तियां की थी।

वित्त वर्ष 2017-18 में टीसीएस ने कुल 7,775 कर्मचारियों की भर्तियां की थीं, जबकि इंफोसिस ने कुल 3,743 कर्मचारियों की भर्तियां की थीं। फॉर्चून की रपट में कहा गया है कि 167 अरब डॉलर के भारतीय सॉफ्टवेयर सेवा उद्योग में तेजी का दौर शुरू हो गया है।

विशेषज्ञों के मुताबिक, 2019 में आईटी कंपनियां डेटा साइंस, डेटा एनालिसिस, सोल्यूशन आर्किटेक्ट्स, प्रोडक्ट मैनेजमेंट, डिजिटल मार्केटिंग, मशीन लर्निग और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई), ब्लॉकचेन और साइबर सिक्युरिटी में विशेषज्ञता रखनेवाले पेशेवरों की भर्तियां करेंगी।

टीमलीस सर्विसेज की रपट में कहा गया है कि इस साल भारतीय आईटी उद्योग में करीब 2.5 लाख नई नौकरियां पैदा होने की उम्मीद है।