खेत में मिले प्रेमी-प्रेमिका के शव से गांव में सनसनी, चुपके से की थी दोनों ने शादी

0
91


Rajpath Desk : साथ जी ना सके तो एक दूसरे से चुपके से शादी कर ली और जहर पीकर जान दे दी। प्रेमी और प्रेमिका का शव एक साथ इस हालत में एक खेत से बरामद हुआ है जिसे देखकर लोगों की आंखें नम हो गईं। मिले दोनों शवों में लड़की नाबालिग है। उसके मांग में सिंदूर भरा है और लड़के की उम्र लगभग 19 साल की है।
किशनगंज के पोठिया थाना क्षेत्र अंतर्गत पाड़ाडांगी स्थित चाय बगान के समीप खेत से गुरूवार को दो शव बरामद किये गये जिसके बाद पूरे इलाके में यह खबर आग की तरह फैल गई। देखते ही देखते घटनास्थल पर सैकड़ों लोगों की भीड़ जुट गई।
दोनों मृतकों की पहचान फाला पंचायत के वार्ड संख्या दस जलालपुर निवासी नरेश प्रसाद सिंह के 19 वर्षीय पुत्र राहुल प्रसाद सिंह व उसी पंचायत के वार्ड संख्या छह कहाबाड़ी गांव निवासी भुवेश चन्द्र सिंह की 16 वर्षीय पुत्री दीपिका कुमारी के रूप में की गई।
दीपिका के मांग में सिंदूर व घटना स्थल से कीटनाशक दवा का बोतल देख परिजन व पुलिस आत्महत्या की बात कह रहे हैं। वहीं ग्रामीणों ने भी दोनों के प्रेम प्रसंग की बात कहते हुए आत्महत्या करने का अंदेशा जताया है। मौके पर पहुंची पोठिया थाना की पुलिस शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। इसके बाद मामला दर्ज कर मृतकों के परिजनों का बयान दर्ज मामले की जांच में जुट गई है।
जानकारी के अनुसार राहुल व दीपिका बुधवार दोपहर को माघी पूर्णिमा का मेला देखने घर से निकला था। ग्रामीणों की मानें तो दोनों को एकसाथ बुधवार शाम को मेला में घूमते देखा गया। गुरूवार सुबह को दोनों का शव चाय बगान के समीप खेत से बरादम किया गया। घटना स्थल पर मौजूद मृतक के पिता नरेश प्रसाद सिंह बताया कि मेरा बेटा राहुल बुधवार को मेला घूमने के लिए निकला था लेकिन देर शाम तक जब घर नहीं पहुंचा तो हमने उसकी खोजबीन शुरू कर दी। सभी रिश्तेदारों के घर मोबाइल से पूछताछ की लेकिन कहीं पता नहीं चला।
सुबह मेरा भतीजा खेत देखने गया तो मेरे ही चाय बगान के निकट खाली पड़े जमीन में मेरे बेटे का शव पड़ा हुआ था। जबकि उसी के बगल में कहाबाड़ी निवासी भुवेश चन्द्र सिंह की 16 वर्षीय पुत्री का भी शव पड़ा था। राहुल के पिता के अनुसार मामला प्रेम प्रसंग का लग रहा है और दोनों ने चायपत्ती बगान में छिड़काव करने वाले कीटनाशक दवाई पीकर अपनी जान दे दी।
घटना स्थल पर पहुंचे पोठिया थानाध्यक्ष सुभाष मंडल ने शव के पास से कीटनाशक दवा वाला बोतल बरामद किया। वहीं मृतक के पिता ने दोनों के बीच प्रेम प्रसंग की जानकारी पूर्व से नहीं होने की जानकारी दी। राहुल भाई-बहनों में बड़ा था और इंटर पास करने के बाद घर पर रहकर खेतीबाड़ी का काम करता था।
वहीं दीपिका उच्च विद्यालय दलूआ में दसवीं कक्षा में पढ़ती थी और इसी महीने मैट्रिक परीक्षा में शामिल होती। घटना स्थल पर बदहवास दोनों के पिता कह रहे थे कि अगर प्रेम प्रसंग की बात बता देता तो हमलोग शादी करा देते।
इस संबंध में पोठिया थानाध्यक्ष सुभाष मंडल ने बताया कि प्रथमदृष्टया मामला आत्महत्या का प्रतीत होता है। घटना स्थल से आधा लीटर कीट नाशक दवा का बोतल बरामद कर अलग-अलग यूडी केस दर्ज कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पुलिस अनुसंधान में जुट गई है।