संगमा ने सुरक्षा पर राजनाथ की टिप्पणी की निंदा की

0
159

तुरा(मेघालय)। मेघालय के मुख्यमंत्री मुकुल संगमा ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह के इस बयान को खारिज किया है जिसमें उन्होंने कहा है कि राज्य में एक उम्मीदवार की हत्या अराजकता का सबूत है।
संगमा ने राजनाथ की टिप्पणी के जवाब में मंगलवार को कहा कि उनकी सरकार ने राज्य में विद्रोही गुटों से निपटने और शांति कायम करने से कभी समझौता नहीं किया।
संगमा ने आईएएनएस से कहा, राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति पर उनकी (राजनाथ) टिप्पणी बिल्कुल अनुचित है। यह किसी देश के गृहमंत्री की सबसे गैरजिम्मेदाराना टिप्पणी है। क्या वह खुद अपनी जिम्मेदारी भूल गए हैं।
राजनाथ ने सोमवार को सोंगसाक में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेतृत्व वाली मेघालय की संयुक्त गठबंधन सरकार पर प्रहार करते हुए कहा था कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के उम्मीदवार जोनाथन एन. संगमा और तीन अन्य लोगों का पूर्वी गारो हिल्स जिले में एक विस्फोट में मारा जाना राज्य में पूर्ण अराजकता और चरमराई कानून-व्यवस्था का सबूत है।
गारो हिल्स इलाके में विद्रोह रोधी अभियानों के लिए तैनात बलों को हटाए जाने को लेकर केंद्र सरकार की निंदा करते हुए संगमा ने कहा, केंद्र की भाजपा सरकार ने पुलिस थानों के सशक्तिकरण के हमारे प्रस्ताव को मंजूर नहीं किया है।
उन्होंने कहा, उन्होंने (भाजपा) पुलिस तंत्र का बुनियादी ढांचा सुधारने के मेघालय के प्रस्ताव पर कोई ध्यान नहीं दिया, लेकिन राज्य सरकार के प्रयासों से विशेष बल-10 का गठन किया गया।
उन्होंने कहा, हमने राज्य में शांति के मुद्दे पर कभी भी समझौता नहीं किया। लेकिन संवेदनशील भारत-बांग्लादेश सीमा के बारे में उनका क्या कहना है, जिसके जरिए भारत में हथियार और आईईडी लाए जाते हैं।