किसी भी हालात से निपटने के लिए तैयार हैं : सेना प्रमुख

0
39

नई दिल्ली : सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने मंगलवार को कहा कि सशस्त्र बल पाकिस्तान से आने वाले किसी भी खतरे से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। उन्होंने कहा कि जम्मू एवं कश्मीर की आम जनता के साथ सेना सौहार्दपूर्ण संबंध बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है।

जनरल रावत यहां सोसाइटी ऑफ इंडियन डिफेंस मैन्युफैक्चर्स में रक्षा के क्षेत्र में अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी इनफ्यूजन विषय पर एक सेमिनार में बोल रहे थे। रावत ने कहा, कश्मीर की आम जनता के साथ सशस्त्र बलों के संबंध 70 और 80 के दशक में बहुत सौहार्दपूर्ण हुआ करते थे।

उन्होंने कहा, उस वक्त हम आग जनता से बिना बंदूक के मिला करते थे। यह बहुत अच्छा होगा, अगर सेना और आम जनता के बीच उस तरह का सौहार्द फिर से शुरू हो जाए। हम आम जनता के साथ अच्छे संबंध रखेंगे।

राज्य के विशेष दर्जे को खत्म कर दिया गया है, जिसके बाद से वहां भारी संख्या में सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है। जनरल रावत ने कहा कि देश को बयान बाजियों से डरने की जरूरत नहीं है।

हाल ही में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा था कि अनुच्छेद 370 को रद्द करने के बाद अब कश्मीर में पुलवामा जैसा हमला फिर से हो सकता है।

रावत ने कहा, हम हमेशा सतर्क रहते हैं और किसी भी तरह की घटना के लिए हमेशा तैयार रहते हैं। ऐसे बयानों से चिंता करने की कोई बात नहीं है।

फरवरी माह में एक एक आत्मघाती हमलावर ने एक हमले में खुद को उड़ा दिया था, जिसमें केंद्रीय रिजर्व बल (सीआरपीएफ) के 40 जवान शहीद हो गए थे।

इसके जवाब में भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में स्थित आतंकी कैम्पों में बम बारी करके कई आतंकवादियों को मार गिराया था।