कोविड-19 संकट के बीच प्रधानमंत्री की रेटिंग यूपीए मुख्यमंत्रियों से भी ज्यादा, जबकि राहुल गांधी की निगेटिव

0
65

नई दिल्ली : लॉकडाउन के दौरान चाहे प्रवासी मजदूरों से जुड़े मामले हों या कोविड-19 महामारी से निपटने के तरीके, सभी में कांग्रेस का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर रवैया हमलावर ही रहा है। हालांकि, इससे अलग प्रधानमंत्री के प्रति लोगों की संतुष्टि रेटिंग(सेटिस्फेक्शन रेटिंग) यूपीए शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से ज्यादा है। यहां तक कि लोगों ने उन्हें सेटिस्फेक्शन रेटिंग के मामले में एनडीए/गैर एनडीए शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से भी आगे रखा है।

लोगों का ये रूख आईएएनएस सी-वोटर स्टेट ऑफ द नेशन पोल में सामने आया है। इसके अनुसार, यूपीए शासित राज्यों के सभी मुख्यमंत्रियों की सेटिस्फेक्शन रेटिंग 57.36 की तुलना में प्रधानमंत्री को मिली रेटिंग 65.69 कहीं बेहतर है। इससे भी ज्यादा आश्चर्यजनक बात ये है कि पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, जो कि लगातार कोविड-19 महामारी में केन्द्र के कामों को लेकर प्रधानमंत्री मोदी पर हमला कर रहे हैं उनकी तीन राज्यों – महाराष्ट्र, झारखंड और पंजाब में रेटिंग नकारात्मक है। जबकि ये तीनों राज्य संप्रग शासित हैं। इनमें गांधी की कुल रेटिंग महज 0.58 है। यूपीए शासित राज्यों में मोदी बनाम गांधी को लेकर देखें तो मोदी की नेट सेटिस्फेक्शन रेटिंग 42.99 है, जबकि छत्तीसगढ़ में तो यह 84.54 है।

यूपीए शासित राज्यों के मुख्यमंत्री की तुलना में राहुल गांधी की समग्र (ओवरऑल) सेटिस्फेक्शन रेटिंग माइनस 56.78 है और उन्हें सबसे कम रेटिंग छत्तीसगढ़ में माइनस 75.65 मिली है।

मोदी की छत्तीसगढ़ में सबसे ज्यादा सेटिस्फेक्शन रेटिंग 92.73 है जबकि राज्य के मुख्यमंत्री की रेटिंग 81.06 और राहुल गांधी की रेटिंग 5.41 है। पोल के अनुसार, पंजाब के मुख्यमंत्री की ये रेटिंग सबसे कम 27.51 है और इस राज्य में प्रधानमंत्री की सेटिस्फेक्शन रेटिंग 68.84 है। प्रधानमंत्री-मुख्यमंत्री तुलना में, पहले की नेट सेटिस्फेक्शन संतुष्टि रेटिंग 8.3 है और महाराष्ट्र में मोदी की सेस्टिफेक्शन रेटिंग नकारात्मक है, यह माइनस 5.04 है। इसके अलावा, महाराष्ट्र एकमात्र ऐसा राज्य है जहां पर मुख्यमंत्री की सेटिस्फेक्शन रेटिंग 76.52 है जो कि प्रधानमंत्री की सेटिस्फेक्शन रेटिंग 71.48 से अधिक है।

वहीं गैर-एनडीए / गैर-यूपीए शासित राज्यों में, पीएम की नेट सेटिस्फेक्शन रेटिंग 65.69 है, जहां सभी मुख्यमंत्री की क्यूमिलेटिव सेटिस्फेक्शन रेटिंग 57.36 है। यहां भी मुख्यमंत्रियों की तुलना में गांधी की सेटिस्फेक्शन रेटिंग फिर से नकारात्मक है और यह माइनस 56.78 है। प्रधानमंत्री मोदी की सबसे ज्यादा सेटिस्फेक्शन रेटिंग उड़ीसा में 95.6, आंध्र प्रदेश में 83.6 और केरल में सबसे कम 32.9 है। पोल के अनुसार, पश्चिम बंगाल में मोदी की सेटिस्फेक्शन रेटिंग 64.06 है, जो पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री की सेटिस्फेक्शन रेटिंग 52.06 से अधिक है, जो प्रधानमंत्री की मुखर आलोचक भी हैं।