हयात में पिस्तौल : बसपा नेता का बेटा गिरफ्तार, खुद का बचाव किया

0
76

नई दिल्ली : बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के पूर्व सांसद राकेश पांडे के बेटे आशीष पांडे ने गुरुवार को दिल्ली की एक अदालत में आत्मसमर्पण किया, जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया। आशीष ने दावा किया कि उसने कुछ गलत नहीं किया और वह बेकसूर है।

बसपा के पूर्व सांसद राकेश पांडे और बसपा विधायक रितेश पांडे के भाई आशीष पांडे द्वारा पटियाला हाउस कोर्ट में मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट धर्मेद्र सिंह के सामने आत्मसमर्पण करने के बाद उसे एक दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया।

आशीष यहां हयात रिजेंसी होटल के बाहर रविवार सुबह घटना के बाद से फरार चल रहा था। एक वीडियो क्लिप में आशीष अपने दाहिने हाथ में पिस्तौल लिए एक व्यक्ति को धमकाता दिख रहा है, व्यक्ति के साथ उसकी महिला मित्र भी मौजूद है।

होटल ने पुलिस में किसी प्रकार की शिकायत नहीं की। वहीं पुलिस ने हयात के खिलाफ भी मामला दर्ज किया है।

गुरुवार को एक वीडियो क्लिप जारी कर आशीष पांडे ने कहा कि पूरी घटना को एकतरफा तरीके से पेश किया गया है।

आशीष पांडे ने मंद आवाज में कहा, सीसीटीवी फुटेज को दिखाया जाना चाहिए, ताकि पता चल जाए कि कौन लेडीज बाथरूम में घुसा था और किसने किसको धमकाया।

उन्होंने कहा, मैं स्वीकार करता हूं कि मैं हथियार के साथ अपनी गाड़ी से बाहर आया था, लेकिन मैंने उसे किसी की तरह लहराया नहीं और न ही उसे किसी को दिखाया।

प्राथमिकी दर्ज होने के बाद बुधवार को अदालत ने उसके खिलाफ गैर जमानती वारंट (एनबीडब्ल्यू) जारी किया था।

आशीष पांडे ने कहा कि वह एक व्यापारी है, लेकिन उसे बार-बार एक नेता का बेटा बताया जा रहा है। उसने कहा, मैं एक व्यापारी हूं। एक राजनेता का बेटा या भाई होना अपराध नहीं है।

उसने जोर देकर कहा, मेरा कोई आपराधिक इतिहास नहीं है। मेरे खिलाफ एक भी मामला दर्ज नहीं है। मेरे पास जो हथियार था, उसका मेरे पास लाइसेंस है।

उसने कहा कि होटल में जिस व्यक्ति से उसका झगड़ा हुआ, वह उसे जान से मारने की धमकी दे रहा था।

उन्होंने कहा, कृपया होटल के स्टाफ का बयान लिजिए। वे आपको सबकुछ बता देंगे।