पाकिस्तान विमान हादसे में जिंदा बचा शख्स पाकीजा फेम कमाल अमरोही का रिश्तेदार

0
137

नई दिल्ली : पाकिस्तान के कराची में शुक्रवार को हुए विमान हादसे में किसी तरह दो लोग जिंदा बचने में सफल रहे। इनमें से एक जिंदा बचे शख्स का भारत से संबंध है। बैंक ऑफ पंजाब के शीर्ष कार्यकारी अधिकारी जफर मसूद भी इस फ्लाइट में थे, जो घायल हुए हैं। उनकी पुश्तैनी जड़ें पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अमरोहा में हैं और वह पाकीजा फेम कमाल अमरोही के परिवार से संबंध रखते हैं।

कराची हवाईअड्डे के पास शुक्रवार को एक विमान लैडिंग से ठीक पहले दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसमें 90 से अधिक लोग मारे गए। इसी विमान में जफर मसूद भी सफर कर रहे थे, जो इस हादसे में जिंदा बचे दो लोगों में से एक हैं। इन्हें कूल्हे और कॉलर की हड्डी पर चोटें आईं हैं।

भारत में उनके रिश्तेदार आदिल जफर ने आईएएनएस को बताया कि जफर मसूद का परिवार 1952 में पाकिस्तान चला गया था। मुंबई में डॉक्यूमेंट्री फिल्म बनाने वाले आदिल जफर मसूद की मां के पहले चचेरे भाई हैं।

आदिल जफर ने कहा कि वह 2015 में कराची में मसूद से मिले थे और मसूद भारत को काफी पसंद करते हैं और वह अपने पैतृक घर को देखने के लिए अमरोहा भी आना चाहते हैं।

जफर मसूद की मां का संबंध कमाल अमरोही से सीधे तौर पर है, क्योंकि उनके नाना तकी अमरोही, जो पाकिस्तान में एक पत्रकार थे, पाकीजा फिल्म निर्माता के चचेरे भाई थे। मसूद का परिवार अमरोहा के सद्दो मोहल्ले से संबंध रखता है। उनके दादा मसूद हसन वकील थे और उनके पिता मुनव्वर सईद पाकिस्तान में टीवी कलाकार थे।

सिंध के स्वास्थ्य मंत्री अजरा फजल पेचुहो ने कहा कि लाहौर से कराची जा रहे पाकिस्तान अंतर्राष्ट्रीय एयरलाइन (पीआईए) के यात्री विमान में सवार कम से कम दो लोगों की जान बच गई है। यह विमान शुक्रवार को जिन्ना अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे पर उतरने से कुछ मिनट पहले ही दुर्घटनाग्रस्त हो गया था।

पीआईए ए-320 यात्री विमान उड़ान संख्या पीके 8303 में कम से कम 90 यात्रियों और चालक दल के आठ सदस्यों को ले जा रहा था। यह रनवे के पास में स्थित मॉडल कॉलोनी में घनी आबादी वाले इलाके में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था।