कातिल ने नहीं छोड़ा था कोई सुराग, तोते ने खोल दी हत्या की राज

0
113

महिला इतनी शातिर थी कि उसने हत्याकांड को अंजाम देने के बाद पुलिस की आंखो में खूब धूल झोंका। वो बार-बार खुद को बेकसूर बताकर पुलिस का विश्वास जीत लेती और किसी को उसपर जरा भी शक नहीं होता था। हालांकि, कहते हैं कि जुर्म कभी छिपता नहीं और अपराधी कभी बचता नहीं। इस महिला का अपराध भी एक दिन बेपर्दा हो ही गया। क़त्ल के बाद सभी सबूत मिटाने वाली यह महिला कैसे आखिरकार कानून के शिकंजे में आई? एक तोते की गवाही ने इस महिला की हाथों में बेड़ियां डाल दीं। यह पूरी कहानी उत्सुकता से भर देने वाली है।

13 मई साल 2015 को वेस्ट मिशिगन के सैंड लेक इलाके में मार्टी नाम के एक शख्स की मौत हो गई। मार्टी की मौत का पता उस वक्त चला जब उनके पड़ोस में रहने वाली कॉनी उनके घर आईं। घर के अंदर की हालत देख उस वक्त कॉनी सिहर उठी थीं। उन्होंने देखा कि बेडरुम के पास फर्श पर अंडरवियर में मार्टी खून से लथपथ पड़े थे और उनकी पत्नी ग्लेना अपनी ड्रेस में वहीं पड़ी हुई थीं। ग्लेना के पैर एक चादर से ढके हुए थे। कॉनी ने उसी वक्त तुरंत पुलिस से संपर्क किया।

हैरानी उस वक्त हुई जब पुलिस पति-पत्नी के पास पहुंची तो ग्लेना की नब्ज चल रही थी और वो जिंदा थी। ग्लेना ने अचानक उसी वक्त आंखें खोली और जोर-जोर से चिल्लाने लगी। जानकारी के मुताबिक एक गोली ग्लेना को सिर के पीछे छू कर निकल गई थी। होश-ओ-हवास में आने के बाद भी ग्लेना पुलिस को यह नहीं बता पा रही थी कि उसके पति मार्टिन का कत्ल किसने किया? वो सिर्फ पुलिस से इतना ही कहती थी कि उसने अपने पति को नहीं मारा और इसके सिवा उसे कुछ भी याद नहीं। पुलिस ने जब इस मामले में अपनी जांच शुरू कि तो खुलासा हुआ है कि ग्लेना और मार्टी दोनों का पहला तलाक हो चुका था और दोनों की यह दूसरी शादी थी।

ग्लेना को जुए की लत थी और उसने जुए में काफी कुछ गंवाया था। यहां तक की ग्लेना जुए में अपना घर भी हार चुकी थी और उसका घर भी अब उसके हाथ से निकलने वाला था। मार्टी को जब इस बात का पता चला था तो दोनों के बीच बहस भी हुई थी। ग्लेना जबरदस्त तनाव से गुजर रही थी क्योंकि उसका घर अब उसके हाथों से निकलने वाला था और उसने अपने पति से झूठ बोला था कि वो सबकुछ ठीक कर देगी। हालांकि इन सब बातों की जानकारी होने के बावजूद पुलिस के पास इस बात के कोई ठोस सबूत नहीं थे कि ग्लेना ने ही अपने पति को मारा है।

इस हत्याकांड के करीब एक साल बाद स्थानीय टीवी चैनल पर डेढ़ मिनट का एक वीडियो चला गया जिसमें मार्टी की पहली पत्नी क्रिस्टिना का अफ्रीकी ग्रे तोता मार्टी की आवाज में मिमिक्री करते हुए कुछ शब्द रट रहा था। यह शब्द थें ‘शट अप…डोंट शूट, डोंट शूट।’ पुलिस ने इस वीडियो को देखने के बाद अपनी जांच और तेज कर दी। जांच के दौरान पुलिस सीधे पहुंची मार्टी की पहली पत्नी क्रिस्टिना के पास। क्रिस्टिना ने पुलिस को बताया कि मार्टी की मौत के कुछ दिनों बाद वो उनके घर गई थी और अपने इस तोते को वहां से लेकर आई थी क्योंकि उन्हें इस तोते से काफी लगाव था। लेकिन कुछ दिनों बाद यह तोता अचानक मार्टी की आवाज में ‘डोंट शूट, डोंट शूट’ रटने लगा। क्रिस्टिना ने पुलिस को यह भी बताया कि ग्लेना एक बुरी औरत थी और वो पैसों की लालची थी।

तफ्तीश में नए एंगल मिलने के बाद पुलिस ने ग्लेना को दोबारा पूछताछ के लिए बुलाया। इस बार पुलिस ने कड़ाई से ग्लेना से पूछताछ की। पुलिस के कड़े सवालों के आगे ग्लेना टूट गई और उसने पुलिस के सामने सच्चाई उगल दी। ग्लेना ने बताया कि उस दिन उसने अपने पति पर गोलियां चलाई थी और उसका पति डोंट शूट, डोंट शूट चिल्ला रहा था। पति को गोली मारने के बाद किसी को उसपर शक ना हो इसलिए वो खुद भी उसकी लाश के सामने जाकर लेट गई थी। इतना ही नहीं उसने यह भी कबूल किया कि पुलिस को धोखा देने के लिए ही उसने यादाशश्त चले जाने की बात भी कही थी। साल 2017 में ग्लेना को अपने पति की हत्या का दोषी पाया गया और कानून के मुताबिक उसपर कार्रवाई हुई।