भूराजनीति तनाव के चलते शेयर बाजार पर बिकवाली का दबाव

0
32

नई दिल्ली : भारतीय शेयर बाजार में इस कारोबारी सप्ताह भारी उतार-चढ़ाव देखने को मिला। सप्ताह के पहले और आखिरी सत्रों में बिकवाली का दबाव बढ़ने से प्रमुख संवेदी सूचकांकों में भारी गिरावट आई। घरेलू शेयर बाजार में इस सप्ताह खाड़ी क्षेत्र में पैदा हुए तनाव, अमेरिका-चीन व्यापारिक वार्ता पर छाए अनिश्चितता के बादल और अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में आई तेजी का असर देखा गया।

इसके अलावा, अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व के बैठक के नतीजों से भी शेयर बाजार प्रभावित रहा। फेड ने अपने रुख में बदलाव करते हुए इस ब्याज दर में आगे कटौती करने का संकेत दिया है।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सप्ताह के मुकाबले 257.58 अंकों यानी 0.65 फीसदी की गिरावट के साथ 39,194.49 पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित प्रमुख संवेदी सूचकांक निफ्टी भी पिछले सप्ताह के मुकाबले 99.20 अंकों यानी 0.84 फीसदी की गिरावट के साथ 11,724.10 पर बंद हुआ।

बीएसई मिड-कैप सूचकांक पिछले सप्ताह के मुकाबले 96.4 अंकों यानी 0.65 फीसदी की गिरावट के साथ 14,624.59 पर बंद हुआ जबकि स्मॉल-कैप सूचकांक 281.69 अंकों यानी 1.96 फीसदी लुढ़ककर 14,084.24 पर रहा।

सप्ताह की शुरुआत गिरावट के साथ हुई और पहले कारोबारी सत्र में सोमवार को सेंसेक्स 39,000 के मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे फिसलकर बीते कारोबारी सत्र के मुकाबले 491.28 अंकों यानी 1.25 फीसदी की गिरावट के साथ 38,960.79 पर बंद हुआ। वहीं, निफ्टी भी 151.15 अंकों यानी 1.28 फीसदी की गिरावट के साथ 11,672.15 पर बंद हुआ।

हालांकि अगले दिन मंगलवार को घरेलू बाजार में चार सत्रों से जारी गिरावट पर ब्रेक लगा और कारोबारी रुझान सकारात्मक रहने से सेंसेक्स बीते सत्र के मुकाबले 85.55 अंकों यानी 0.22 फीसदी की तेजी के साथ 39,046.34 पर बंद हुआ। निफ्टी भी 19.35 अंकों यानी 0.17 फीसदी की कमजोरी के साथ 11,691.50 पर रहा।

कारोबारी सप्ताह के तीसरे सत्र में बुधवार को सेंसेक्स 66.40 अंकों यानी 0.17 फीसदी की तेजी के साथ 39,112.74 पर बंद हुआ, जबकि निफ्टी 11,691.45 पर सपाट बंद हुआ।

विदेशी बाजार से मिले मजबूती संकेतों से और मानसून की प्रगति की रिपोर्ट से भारतीय शेयर बाजार में गुरुवार को जबरदस्त तेजी का माहौल रहा। सेंसेक्स बीते सत्र से 488.89 अंकों यानी 1.25 फीसदी की तेजी के साथ 39,601.63 पर बंद हुआ। निफ्टी में भी जोरदार उछाल देखने को मिला। निफ्टी गुरुवार को पिछले सत्र के मुकाबले 140.30 अंकों यानी 1.20 फीसदी की तेजी के साथ 11,831.75 पर बंद हुआ।

हालांकि यह तेजी आगे नहीं टिकी और कारोबारी सत्र के आखिरी सत्र में शुक्रवार को बिकवाली का दबाव बढ़ने से सेंसेक्स और निफ्टी ने गोते लगाए। सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले 407.14 अंकों यानी 10.3 फीसदी की भारी गिरावट के साथ 39,194.49 पर बंद हुआ। निफ्टी भी 107.65 अंकों यानी 0.91 फीसदी लुढ़क कर 11,724.10 पर रहा।