कोहली ने कीवी गेंदबाजों को सराहा

0
14

मैनचेस्टर : आईसीसी विश्व कप-2019 के पहले सेमीफाइनल में बुधवार को न्यूजीलैंड से मात खाने के बाद भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने कीवी गेंदबाजों की तारीफ की है और कहा कि उन्होंने हमेशा भारत को दबाव में रखा।

न्यूजीलैंड ने भारत के सामने 240 रनों का लक्ष्य रखा था लेकिन बारिश के कारण दो दिन तक खिंचे इस सेमीफाइनल में भारत 49.3 ओवरों में 221 रनों पर आउट हो गया और 18 रनों से मैच हार गया।

मैच के बाद कोहली ने कहा, इस जीत का श्रेय न्यूजीलैंड के गेंदबाजों को जाता है। उन्होंने नई गेंद से सही जगहों पर गेंदबाजी की। मुझे लगता है कि यह कीवी टीम के गेंदबाजों की बेहतरीन योग्यता का उदाहरण था।

कोहली ने कहा, न्यूजीलैंड इस जीत की हकदार थी। उन्होंने हमेशा हमें दबाव में रखा। वहीं मुझे लगता है कि हमारा शॉट्स का चयन और बेहतर हो सकता था। अन्यथा हमने अच्छी क्रिकेट खेली। हमने पूरे टूर्नामेंट में जिस तरह से खेला मुझे उस पर गर्व है।

भारत ने अपने तीन विकेट महज पांच रनों पर खो दिए थे। 92 रनों पर उसके छह विकेट थे। यहां से रवींद्र जडेजा (77) और महेंद्र सिंह धोनी (50) ने टीम को जीत के करीब पहुंचा दिया, लेकिन अंत में बाउल्ट ने जडेजा और मार्टिन गुप्टिल ने डायरेक्ट हिट से धोनी को आउट कर भारत को हार की तरफ धकेल दिया।

जडेजा और धोनी पर कोहली ने कहा, जडेजा ने बीते कुछ मैचों में अच्छा किया है। उनका आज का प्रदर्शन उनके लिए बेहद सकारात्मक है। धोनी के साथ उन्होंने अच्छी साझेदारी की, लेकिन एक बार फिर हम कम अंतर से रह गए। धोनी काफी कम अंतर से रन आउट हुए। आप जब पूरे टूर्नामेंट में अच्छा खेलते हो और सिर्फ 45 मिनट खराब खेलने के बाद आप बाहर हो जाते हो तो बुरा लगता है।

भारत ने लगातार तीसरी बार सेमीफाइनल में जगह बनाई थी। 2011 में विश्व विजेता बनी थी लेकिन 2015 और 2019 में वह सेमीफाइनल से आगे नहीं जा पाई।