आईपीएल-12 : हार्दिक पांड्या ने बेंगलोर से छीनी जीत

0
8

मुंबई  : मुंबई इंडियंस ने सोमवार को आखिरी के ओवरों में खेली गई हार्दिक पांड्या की 16 गेंदों पर नाबाद 37 रनों की पारी के सहारे इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें संस्करण के मैच में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर को पांच विकेट से हरा दिया।

बेंगलोर ने वानखेड़े स्टेडियम में खेल गए इस मैच में अब्राहम डिविलियर्स (75) और मोइन अली (50) की अर्धशतकीय पारियों के दम पर 20 ओवरों में सात विकेट खोकर 171 रन बनाए थे। इस लक्ष्य को मुंबई ने 19 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर हासिल कर लिया।

हार्दिक ने अपनी पारी में पांच चौके और दो छक्के मारे। इस हार ने बेंगलोर की प्लेऑफ की उम्मीदों को भी गहरे संकट में डाल दिया है। आठ मैचों में उसकी यह सातवीं हार है।

कप्तान रोहित शर्मा (28) और क्विंटन डी कॉक (40) ने टीम को तेज शुरुआत दी। इस सलामी जोड़ी ने मुंबई को सात ओवरों में 70 रनों का स्कोर दे दिया। लेकिन मोइन अली ने अगले ओवर में दोनों बल्लेबाजों को आउट कर दिया।

ईशान किशन ने आते से ही आक्रामकता दिखाई। ईशान हालांकि ज्यादा देर तक विकेट पर रह नहीं सके। उन्होंने सिर्फ नौ गेंदें खेली जिनमें से तीन पर छक्के लगाए। वह 21 के निजी स्कोर पर युजवेंद्र चहल का शिकार बने। चहल ने अपना अगला शिकार सूर्यकुमार यादव (29) को बनाया।

क्रुणाल पांड्या (11) भी 18वें ओवर में पवेलियन लौट लिए। दूसरे छोर पर हालांकि उनके भाई हार्दिक पांड्या खड़े थे। दो ओवरों में मुंबई को 22 रनों की दरकार थी। कोहली ने 19वां ओवर बाएं हाथ के स्पिनर पवन नेगी को दिया और पांड्या ने इसी ओवर में दो छक्के और दो चौकों की मदद से जरूरी रन बना एक ओवर पहले ही मुंबई को जीत दिला दी।

इससे पहले, मोइन और डिविलियर्स ने बेंगलोर को मजबूत स्कोर दिया। यह स्कोर और ज्यादा हो सकता था लेकिन लसिथ मलिंगा ने आखिरी के ओवरों में लगातार विकेट लेकर बेंगलोर को ज्यादा आगे नहीं जाने दिया। मलिंगा ने आखिरी ओवर फेंका जिसमें सिर्फ नौ रन दिए और दो विकेट लिए।

जेसन बेहरनडॉर्फ ने कोहली (8) को अपनी बेहतरीन इन स्विंग पर विकेट के पीछे डि कॉक के हाथों कैच करा बेंगलोर को पहला झटका दिया। कोहली के बाद डिविलियर्स आए। उन्होंने पार्थिव पटेल (28) के साथ दूसरे विकेट के लिए 37 रनों की साझेदारी की।

हार्दिक ने पार्थिव को आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा। यहां से डिविलियर्स और मोइन ने रन बनाने का सिलसिला जारी रखा।

15 ओवरों में बेंगलोर का स्कोर दो विकेट के नुकसान पर 119 रन था। यहां से बेंगलोर ने तेजी से रन बनाने की कोशिश की। 16वें ओवर में मोइन ने दो छक्के और दो चौकों की मदद से 17 रन बटोरे। इस ओवर के बाद बेंगलोर की टीम ज्यादा तेजी से रन नहीं बना पाई। 17वें ओवर में सिर्फ आठ रन ही आए। इस ओवर में मोइन ने अपना अर्धशतक भी पूरा किया।

अगले ओवर की पहली ही गेंद पर मोइन आउट हो गए। उन्हें हार्दिक ने मलिंगा की गेंद पर 144 के कुल स्कोर पर लपका। मोइन ने अपनी पारी में 32 गेंदें खेली जिनमें पांच छक्के और एक चौका शामिल रहा। इसी ओवर में बेंगलोर ने मार्क स्टोइनिस (0) के रूप में एक और विकेट खोया और सिर्फ आठ रन ही ले सकी।

19वें ओवर में 10 रन आए। डिविलियर्स के रहते उम्मीद थी कि आखिरी ओवर में ज्यादा रन आएंगे, लेकिन डिविलियर्स नॉन स्ट्राइकर छोर पर पोलार्ड के सीधे थ्रो पर आउट हो गए। उन्होंने अपनी पारी में 51 गेंदों का सामना किया और छह चौकों के अलावा चार छक्के लगाए।

आखिरी की चार गेंदों पर बेंगलोर ने दो विकेट खो दिए और सिर्फ दो रन बनाए।

मुंबई के लिए मलिंगा ने चार विकेट लिए। जेसन और हार्दिक पांड्या को एक-एक सफलता मिली। एक बल्लेबाज रन आउट हुआ।