बेंगलूरु में आयकर का छापा: 4.7 करोड़ मूल्य के 2000 के नए नोट बरामद

भारत

बेंगलूरु : देश में कितना काला धन है और कहां कहां छिपा है, इसका सही अंदाजा किसी को भी नहीं है. लेकिन नोटबंदी के बाद से हर रोज देश के हर हिस्से में इतना कैश पकड़ा जा रहा है जो ये साबित करता है कि लोगों ने कितना काला धन छिपा कर रखा था. हालांकि अब पकड़े जा रहे नोटों में 2000 के नए नोट भी शामिल हैं.
इनकम टैक्स विभाग ने बेंगलूरु में एक फ्लैट से 2000 के नए नोटों की गड्डियां, 500 के पुराने नोटों की गड्डियां और 100 के नोटों की कई गड्डियां बरामद की हैं. इतना पैसा की पूरा बेड नोटों की गड्डियों से भर गया. इसके अलावा इनकम टैक्स विभाग ने 2 करोड़ रुपए के करीब 7 किलो सोने के बिस्किट भी बरामद किए हैं.
बरामद किए गए 2000 के नए नोटों की कुल कीमत करीब 4 करोड़ 70 लाख रुपए है. इसके अलावा 30 लाख के पुराने नोट हैं. ये सारा काला धन बेंगलूरु के जिस घर से मिला है वो एक हाइवे प्रोजेक्ट का ठेकेदार था.
इनकम टैक्स विभाग ने स्टेट हाइवे के चीफ प्रोजेक्ट ऑफिसर एसी जयचंद्र और प्रोजेक्ट से जुड़े तीन ठेकेदारों के यहां भी छापे मारे. जयचंद्र ने अपने बेटे के नाम पर पांच करोड़ की लैंबॉर्गिनी कार और एक पोर्श कार भी खऱीदी थी.
इसके अलावा बेंगलूरु में ही एक वरिष्ठ आईएएस और कावेरी कमेटी के एमडी चिक्करायप्पा के घर छापे में भी करोड़ों बरामद हुए हैं. इसमें 45 लाख रुपये नई करेंसी में हैं. इनकम टैक्स विभाग को जानकारी मिली थी कि बंद हो चुके नोटों को अवैध तरीके से बदलवाया जा रहा था. जिसके बाद ही बेंगलूरु में ये छापेमारी शुरू की गई.
इससे पहले तमिलनाडु के सलेम में बीजेपी के छात्र नेता जेवीआर अरुण के घर से 2 हजार के 926 नए नोट यानी 18 लाख 52 हजार रुपए बरामद हुए. इसके अलावा 100-100 के नोटों में एक लाख 53 हजार रुपए भी बरामद हुए. पुलिस ने ये बरामदगी तब की जब अरुण बैंक से पैसे बदलवाने के बाद लौट रहा था.
तमिलनाडु पुलिस ने अरुण को जवाब देने के लिए वक्त दिया कि वो चाहे तो नोटों का हिसाब दे पाए, लेकिन अरुण के पास इसका कोई जवाब नहीं था. पुलिस ने सारे नोट जब्त करके सरकारी मालखाने में जमा करा दिया है.
जेवीआर अरुण वही नेता हैं जिन्होने नोटबंदी का समर्थन करते हुए अपने फेसबुक पेज पर लिखा था कि पीएम मोदी ने नेताओँ की रातों की नींद उड़ा दी है. लेकिन अब अरुण के कारण ही बीजेपी की किरकिरी हुई, जिसके बाद तमिलनाडु बीजेपी ने उससे संगठन की तमाम जिम्मेदारियां छीन ली है और कारण बताओ नोटिस जारी किया है.
हैदराबाद पुलिस ने एक महिला समेत पांच लोगों को 2000 के नए नोटों के साथ बरामद किया है. इन नोटों की कुल कीमत करीब 95 लाख रुपए है. इन लोगों के पास इस बात का कोई जवाब नहीं था कि उनके पास ये नोट कहां से आए.
दिल्ली से सटे गाजियाबाद के कविनगर इलाके में 2 लावारिस बैग में 2000 के 100 नए नोट बरामद हुए. ये बैग एक दफ्तर के बाहर रखे हुए थे. पुलिस बैग के मालिक तलाश कर रही है.
ओडिशा में पुलिस ने 3 लोगों को गिरफ्तार किया है जो नई दिल्ली भुवनेश्वर राजधानी एक्सप्रेस से करीब साढ़े 4 लाख रुपए का काला धन लेकर आ रहे थे. इन्होने नोटों की गड्डियां ट्रेन के टॉयलेट में छिपा रखी थीं. पुलिस इन लोगों से पूछताछ कर ये पता लगा रही है कि ये पैसा किसका था.
वहीं पटना एयरपोर्ट पर सीआईएसएफ ने 1 करोड़ 20 लाख रुपए के पुराने नोट बरामद किए हैं. ये रकम थाइलैंड के 2 युवकों के पास से बरामद की गई है. आयकर विभाग इन युवकों से पूछताछ कर रही है कि वो कहां से और किसलिए ये नोट लेकर आ रहे थे.