पुलिस के लिए मून बनी हनी

0
1665

जब से बबाली बाबा का कच्चा चिट्ठा खुला है उसमे हनीप्रीत एक अहम् किरदार उभर कर सामने आई है . सजा के फैसले के बाद से ही वह भूमिगत हो गई है , इसी का नतीजा है की पुलिस ने बलात्कारी बाबा राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत इंसान पर देशद्रोह का केस दर्ज करते हुए, उसके खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया है। राम रहीम की सुरक्षा में तैनात कमांडोज ने बबाली बाबा को पंचकुला कोर्ट से भगाने की कोशिश की थी। इस मामले में हरियाणा पुलिस के पांच कमांडोज और 2 प्राइवेट कमांडोज को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है बाबा को भगाने की पूरी साजिश हनीप्रीत ने रची थी। हनीप्रीत पर बाबा को बलात्कारी करार दिए जाने के बाद हिंसा फैलाने का भी आरोप है। सूत्रों की मानें तो हनीप्रीत ने ही बाबा राम रहीम के समर्थकों को हिंसा पर उतर जाने के लिए उकसाया था।
वहीं कुछ अन्य रिपोर्ट्स के मुताबिक हनीप्रीत के अलावा पवन इंसां और आदित्य इंसां के खिलाफ भी लुकआउट नोटिस जारी किया गया है। अब ये तीनों देश छोड़कर बाहर नहीं जा सकते। ये तीनों ही बलात्कारी बाबा राम रहीम के करीबी माने जाते हैं। बाबा राम रहीम के जेल जाने के बाद हनीप्रीत फरार हैं। पुलिस उसे पकड़ने के लिए जगह-जगह छापेमारी कर रही है। फिलहाल वो पुलिस के लिए मून यानी चाँद ही बनी हुई है .