गुजरात में सबसे अच्छे और उत्तरप्रदेश एवं बिहार के रेलवे स्टेशन सबसे गंदे !

0
2808

नई दिल्ली : देश में सबसे स्वच्छ रेलवे स्टेशन गुजरात में हैं, जबकि सबसे गंदे स्टेशन बिहार और उत्तर प्रदेश में हैं. रेल मंत्रालय द्वारा स्वच्छता पर किए गए एक सर्वेक्षण में यात्रियों ने कहा कि स्टेशनों पर स्वच्छता की कमी, उनके लिए सबसे बड़ी चिंता है.
स्वच्छता के 40 अलग-अलग मानकों में से यात्रियों ने स्टेशनों पर दुर्गंध को सबसे बड़ी चिंता माना और इसके बाद कूड़ेदानों की कमी और प्लेटफार्मों पर गंदगी को गिनाया. यह सर्वेक्षण 407 प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर किया गया और करीब 1,30,000 यात्रियों ने इसमें हिस्सा लिया.
रेल मंत्रालय द्वारा सर्वेक्षण की रिपोर्ट जारी की गई जिसमें रैंकिंग के हिसाब से 10 सबसे स्वच्छ स्टेशनों में ब्यास, गांधीधाम, वास्को डि गामा, जामनगर, कुंबकोणम, सूरत, नासिक रोड, राजकोट, सेलम और अंकलेश्वर शामिल हैं. गुजरात के पांच स्टेशन- गांधीधाम, जामनगर, सूरत, राजकोट और अंकलेश्वर शीर्ष 10 में शामिल हैं.
रैंकिंग के हिसाब से सबसे गंदे स्टेशनों में मधुबनी, बलिया, बख्तियारपुर, रायचुर, शाहगंज, जंघई, अनुग्रह नारायण, सगौली, आरा और प्रतापगढ़ शामिल हैं जिसमें पांच सबसे गंदे स्टेशन- मधुबनी, बख्तियारपुर, अनुग्रह नारायण, सगौली और आरा- बिहार में हैं.
इस सर्वेक्षण में प्रत्येक यात्री से 40 विभिन्न मानकों पर स्टेशनों की स्वच्छता की रेटिंग करने को कहा गया था. इसमें कुलियों और प्लेटफार्म पर स्थित वेंडरों से भी प्रतिक्रिया ली गई थी. प्रत्येक ए1 (75 स्टेशन) वर्ग के लिए 400 यात्रियों से सवाल पूछे गए, जबकि प्रत्येक ए (332) वर्ग के स्टेशन में 300 यात्रियों से सवाल पूछे गए. प्रति स्टेशन 100 इंटरव्यू सर्वेक्षणकर्ताओं द्वारा किए गए.
इन तथ्यों के आधार पर मंत्रालय ने उचित कार्रवाई के लिए मंडलीय मुख्यालयों को दिशानिर्देश जारी किए हैं. मंत्रालय ने समय समय पर इस तरह का सर्वेक्षण करने का निर्णय किया है.