आतंकवाद विरोधी मामले पर कुछ देशों के दोहरे मानदंड : चीनी विदेश मंत्रालय

0
63

बीजिंग : चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ छुनयिंग ने कहा कि आतंकवाद विभिन्न देशों के सामने मौजूद समान चुनौती है। इस मामले पर कभी भी दोहरा मापदंड नहीं होना चाहिए लेकिन दुर्भाग्यपूर्ण बात यह है कि वास्तविक जीवन में कुछ देश आतंकवाद विरोधी मामले पर दोहरे मापदंड का पालन करते हैं, उन्हें सबक सीखना चाहिए।

मंगलवार को नियमित संवाददाता सम्मेलन में हुआ छुनयिंग ने कहा कि ब्रिटेन और अन्य 20 से अधिक देशों ने संदिग्ध हिंसक आतंकवादी अपराधियों के लिए अनिवार्य परियोजना लागू की। इन प्रतिबंधात्मक आतंकवाद विरोध और उग्रवाद को खत्म करने की परियोजनाओं के मूल इरादे और तर्क वास्तव में चीन के शिनच्यांग में शिक्षा केंद्र की स्थापना के बराबर हैं। लेकिन, शिनच्यांग में शिक्षा केंद्र की स्थापना का कदम अधिक व्यवस्थित, व्यापक और अधिक प्रभावी है।

उन्होंने कहा कि शिनच्यांग में व्यावसायिक कौशल शिक्षा और प्रशिक्षण केंद्र स्थापित करने का लक्ष्य है कि स्रोत पर उग्रवाद विचारों को समाप्त करें, तंत्र से कानून शिक्षा के नियम को लोकप्रिय बनाएं, व्यावसायिक कौशल से रोजगार के अवसरों को बढ़ाएं। इससे अतिवादी और हिंसक डरावने विचारों से प्रभावित लोग जल्द से जल्द समाज में लौट सकते हैं। शिनच्यांग में लगातार तीन वर्षों से कोई आतंकवादी हिंसा नहीं हुई है।

हुआ छुनयिंग ने कहा कि चीन विभिन्न देशों के साथ अपने सफल अनुभव साझा करने और इसका आदान-प्रदान करना चाहता है, आतंकवाद और उग्रवाद को खत्म करने पर आदान-प्रदान और सहयोग को मजबूत करने से अंतर्राष्ट्रीय आतंकवाद विरोधी सहयोग को आगे बढ़ाने के लिए योगदान करना चाहता है।

(साभार–चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)