पूर्व विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पाण्डेय को जिला पंचायत ने घर खाली करने का भेजा नोटिस

0
96

सिद्धार्थनगर : उत्तर प्रदेश के पूर्व विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पांडेय को घर खाली करने के लिए जिला पंचायत ने नोटिस भेजा है। सूत्रों की मानें तो माता प्रसाद को 1978 में जनता पार्टी की सरकार की तरफ से यह घर आवंटित हुआ था। इसमें 50 रुपया महीने पर 99 साल का पट्टा किया गया था। मामले में बताया जा रहा है कि सरकार के शासनादेश के आधार पर जिला पंचायत ने नोटिस भेजा है। जिसमें उन्हें सात दिनों में मकान खाली करने को कहा गया है।

वहीं, मामले में पूर्व विधानसभा अध्यक्ष ने भाजपा विधायक और योगी सरकार में मंत्री सतीश द्विवेदी पर मकान खाली करवाने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि यह सरकार प्रदेश के साथ-साथ मेरे जिले में सपा कार्यकर्ताओं और आम जनता को परेशान कर रही है।

उन्होंने कहा कि शासन द्वारा आवंटित सरकारी भवन का 50 रुपया महीने के हिसाब से 99 वषों तक पट्टा किया गया था, उसे राजनीतिक दबाव में रद्द कर सीधे मकान खाली करने का नोटिस दे दिया गया है।

उन्होंने बताया कि 2009 में स्थानीय सांसद ने इसे खाली कराने की कोशिश की थी। हालांकि वह इसमें कामयाब नहीं हो सके। इस पूरे मामले में कानूनी राय लेकर आगे कार्यवाही की जाएगी।