श्रीनगर में हुए हिमस्खलन से बुझ गया दीपक, रो रहा है बक्सर, नहीं रोक पा रहे लोग अपने आंसू  

0
162


BIHAR : श्रीनगर में भारी हिमस्खलन की चपेट में आने से बुधवार को बिहार के बक्सर का एक लाल शहीद हो गया। बुधवार को दीपक अपनी ड्यूटी पर तैनात थे। इसी दौरान भारी हिमस्खलन में वह बर्फ के नीचे दब गये। रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद दीपक को बर्फ के नीचे से निकाल कर श्रीनगर के आर्मी अस्पताल में भर्ती कराया गया। लेकिन इलाज के दौरान वह जिंदगी की जंग हार गये।
दीपक के शहीद होने की खबर फैलते ही उनके पैतृक घर की ओर हजारों लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। घर के बरामदे में रो रही महिलाओं को देखकर पहुंचे लोग अपने आंसू नहीं रोक सकें। इससे पहले दीपक के पिता भी देश के लिए ही शहीद हुए थे। शहीद द्वारिका यादव के अनुकम्पा पर दीपक यादव भर्ती हुए थे। पिता की जगह अनुकंपा पर नौकरी लगी थी। दीपक के दो बेटे चुन्नू यादव व बजरंगी यादव हैं। दीपक दिसम्बर महीने में ही अपने बड़े पुत्र का गौना समारोह सम्पन्न कर गये थे। शहीद का पार्थिव शरीर सेना के विशेष विमान से आज दोपहर लाया जाएगा।
दीपक की पोस्टिंग श्रीनगर के हेडक्वाटर 99- रटक खंडवा में हुआ हुई थी। दीपक अपने पीछे दो पुत्र और पत्नी को छोड़ गए हैं। वहीं पहले पति और अब बेटे को खोने के गम में शहीद की मां बेसुध पड़ी हैं।
बता दें कि जम्मू-कश्मीर के माछिल सेक्टर में शुक्रवार को भी हिमस्खलन की वजह से तीन सैनिकों की मौत हो गई। सेना के एक अधिकारी ने बताया कि कुपवाड़ा जिले के माछिल सेक्टर में शुक्रवार को भारी हिमपात और हिमस्खलन हुआ।
बर्फ की चपेट में एक चौकी पर तैनात सेना के तीन जवान आ गए और कई फुट बर्फ के नीचे दब गए। अधिकारी ने बताया कि माछिल सेक्टर में सेना ने तीन जवानों को खो दिया है। तीनों जवानों के शव बरामद कर लिए गए हैं। एवलांच में जान गंवाने वाले सैनिकों के नाम हैं- हवलदार कमलेश सिंह (39), नायक बलवीर (33) और सिपाही रजिंदर हैं।