अरुणाचल के विकास में संपर्क एक बड़ी बाधा : बख्शी

0
499

ईटानगर। अरुणाचल प्रदेश के राज्यपाल बी.डी. मिश्रा ने शुक्रवार को कहा कि संपर्क की चुनौती राज्य के विकास में सबसे बड़ी बाधा रही है।
उन्होंने अपने पहले गणतंत्र दिवस संबोधन में राज्य के लोगों से कहा, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय बाजारों तक पहुंच बनाने के लिए हमारे राज्य के लोगों के लिए संपर्क को बढ़ाना एक अनिवार्य जरूरत है।
उन्होंने कहा, चार दशकों तक हवाई संपर्क में कोई वृद्धि नहीं हुई।
उन्होंने विश्वास जताते हुए कहा कि इस वर्ष अरुणाचल में नागरिकों के लिए पासीघाट में एडवांस लैंडिंग ग्राउंड में विमान संचालन का कार्य शुरू हो जाएगा। बख्शी ने कहा कि सरकार होलोंगी में असैन्य हवाईअड्डे को जल्द शुरू करने को लेकर प्रतिबद्ध है।
उन्होंने कहा, तेजू हवाईअड्डे पर सभी तरह के काम पूरे हो गए हैं और जल्द ही यहां विमान सेवा शुरू हो जाएगी।
बख्शी ने कहा, इसके अलावा, सरकार ने पूरे राज्य में हेलीकॉप्टर सेवा के विस्तार को भी प्राथमिकता दी है।
उन्होंने कहा, नियमित रूप से विश्वसनीय, पर्याप्त और सस्ती हेलीकॉप्टर सेवा पूरे राज्य में नए आर्थिक अवसरों को पैदा करने के लिए उपलब्ध होगी।
उन्होंने कहा कि सरकार त्वरित ढंग से राज्य के सभी विकास कार्यो को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है।
बख्शी ने कहा कि केंद्र सरकार ने राज्य के सड़क संपर्क के लिए 50 हजार करोड़ रुपये देने का वादा किया है। पिछले वर्ष हमने ट्रांस-अरुणाचल राजमार्ग के कार्यान्वयन में महत्वपूर्ण प्रगति देखी है।
उन्होंने कहा,राज्य सरकार ने ग्रामीण संपर्क बढ़ाने और सीमावर्ती क्षेत्रों में समाजिक-आर्थिक संरचना के विकास के लिए केंद्र सरकार को समग्र विकास का प्रस्ताव दिया है।