तनावग्रस्त क्षेत्रों में विरासत संरक्षण के लिए चीन की सराहना

0
59

बीजिंग : इंटरनेशनल अलायंस फार द प्रोटेक्शन आफ हेरिटेज इन कांफिक्ट एरियाज (एएलआईपीएच) ने तनावग्रस्त क्षेत्रों में विरासत संरक्षण के लिए चीन की सराहना की है। तनावग्रस्त क्षेत्र में विरासत संरक्षण के लिए अंतर्राष्ट्रीय गठबंधन (एएलआईपीएच) के कार्यकारी प्रमुख वैलेरी फ्रीलैंड ने हाल में पेइचिंग में कहा कि गठबंधन का महत्वपूर्ण सदस्य देश होने के नाते चीन तनावग्रस्त क्षेत्रों के विरासत संरक्षण में सक्रिय भूमिका निभाता है। उन्हें आशा है कि चीन के संबंधित संगठन गहन रूप से तनावग्रस्त क्षेत्रों के विरासत संरक्षण में भाग लेंगे।

हाल के वर्षो में सांस्कृतिक विरासत हिंसा का निशाना बने। सांस्कृतिक विरासत की देखभाल और मरम्मत देश के समाज और संस्कृति के पुनर्निर्माण का महत्वपूर्ण हिस्सा है। एएलआईपीएच इस क्षेत्र में दुनिया का एकमात्र अंतर्राष्ट्रीय कोष है।

जानकारी के अनुसार, अभी 44 परियोजनाएं एएलआईपीएच के समर्थन में चल रही हैं, जो अफगानिस्तान, इरिट्रिया, इराक और लेबनान आदि 14 देशों को कवर कर रही हैं, जिसके लिए 1.7 करोड़ से अधिक अमेरिकी डॉलर की पूंजी लगाई गई है।

(साभार—चाइना रेडियो इंटरनेशनल, पेइचिंग)