बिहार उपचुनाव : भभुआ सीट पर उम्मीदवार को लेकर कांग्रेस में उठापटक

0
476

पटना| बिहार में एक लोकसभा और दो विधानसभा सीटों पर हो रहे उपचुनाव में भभुआ विधानसभा सीट पर उम्मीदवार को लेकर कांग्रेस में उठापटक प्रारंभ हो गया है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अशोक चौधरी ने यहां बुधवार को कहा कि सहयोगी पार्टी से केवल सीट लेकर और उम्मीदवार उतारकर चुनाव नहीं जीते जा सकते। इस बीच कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिलीप चौधरी ने उम्मीदवार शंभु पटेल के चयन पर ही सवाल उठा दिया। राजद और कांग्रेस बिहार उपचुनाव में गठबंधन के तहत चुनाव मैदान में हैं। राजद जहां अररिया लोकसभा और जहानाबाद विधानसभा सीट से चुनाव मैदान में है, वहीं भभुआ सीट से कांग्रेस ने शंभु पटेल को अपना उम्मीदवार बनाया है।
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अशोक चौधरी ने कहा, “बिहार कांग्रेस के नेताओं को उम्मीदवार को विजयी बनाने की जिम्मेदारी लेनी होगी। सिर्फ गठबंधन के सहयोगी दल से सीट अपने हिस्से में ले लेने भर से कांग्रेस के वर्तमान नेताओं का काम खत्म नहीं हो जाता। चुनाव में विजयी होने के लिए सबको मेहनत करनी होगी।”
इधर, कांग्रेस के विधान पार्षद दिलीप चौधरी ने पार्टी उम्मीदवार पर ही सवाल खड़ा कर दिए। उन्होंने कहा कि कांग्रेस वहां से इस उम्मीदवार के बल पर चुनाव नहीं जीत पाएगी। शंभु पटेल को एक व्यक्ति विशेष का आदमी बताते हुए उन्होंने कहा कि टिकट देने के पहले सभी कांग्रेसियों से राय लेनी चाहिए थी।
इधर, प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष कौकब कादरी उम्मीदवार शंभु पटेल के बचाव में उतर आए हैं। उन्होंने दावा किया कि भभुआ सीट से कांग्रेस की जीत तय है। उन्होंने कहा कि भभुआ से जमीनी नेता को टिकट दिया गया है।
भभुआ से भाजपा ने रिंकी पांडेय को चुनाव मैदान में उतारा है।
उपचुनाव के लिए 11 मार्च को मतदान होना है।