अखिलेश का बयान, कहा- सरकार चला रही आजम खां के खिलाफ अभियान, नहीं जाने दिया रामपुर

0
190

DESK : राजनीतिक गलियारों में आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। दरअसल, चार राज्यों में विधानसभा चुनाव लेकर तैयारी जोरों पर चल रही है। और इधर, समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव का सोमवार को रामपुर दौरा रद हो गया है। अखिलेश यादव रामपुर में पार्टी के सांसद आजम खां के पक्ष में होने वाले प्रदर्शन में शामिल होने वाले थे। माना जा रहा है कि अब वह चार-पांच दिन बाद रामपुर आएंगे। दौरा रद होने पर अखिलेश यादव ने योगी आदित्यनाथ सरकार पर निशाना साधा और सरकार का साजिश बताया।

रामपुर का दौरा रद होने के बाद सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। अखिलेश यादव ने कहा कि आज हमको सीतापुर, शाहजहांपुर, बरेली होते हुए रामपुर जाना था। वहां पार्टी कार्यकर्ताओं से मुलाकात करनी थी। सरकार ने तानाशाही दिखाते हुए हमको रामपुर जाने से रोक दिया। आप सभी को पता है कि योगी आदित्यनाथ सरकार वहां पर सांसद रामपुर आजम खां के खिलाफ अभियान चला रही है। उनको पार्टी की जरूरत है। मैं अब 13 और 14 को फिर रामपुर जाने का प्रयास करूंगा। फिर जिला प्रशासन को अनुमति के लिए पत्र भेजूंगा।

अखिलेश यादव ने बताया कि सरकार ने उन्हें रामपुर जाने से रोक दिया है। जिसके चलते उन्हें अपना आज का कार्यक्रम रद करना पड़ रहा है। अखिलेश यादव ने कहा कि वहां पर मुहर्रम और गणेश विसर्जन का आयोजन हो रहा है। मैं दो दिनों के लिए अपने दौरे को रोक रहा हूं। मैं 13 और 14 सितंबर को अगले कार्यक्रम के बारे में जिला प्रशासन को आवेदन भेजूंगा और मैं अपने आने के बारे में भी जानकारी दूंगा।

अखिलेश यादव का रामपुर दौरा रद सपा मुखिया अखिलेश यादव का रामपुर दौरा टल गया है। अब वह चार दिन बाद रामपुर आएंगे। समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष अखिलेश कुमार ने बताया कि मुहर्रम के कारण ऐसा किया गया है। अब उनके यहां चार-पांच दिन बाद आने की उम्मीद है। जिलाधिकारी आन्जनेय कुमार सिंह ने अखिलेश यादव के दौरे को लेकर गृह विभाग को लिखा था कि रामपुर में मुहर्रम के मौके पर नौ सितंबर की रात जगह-जगह कार्यक्रम होंगे। अजादार रात में भी मातम करेंगे। दस सितंबर को भी जिले भर में जगह-जगह ताजियो के जुलूस निकलेंगे। इस दौरान जुलूस की सुरक्षा में पुलिसकर्मी भी तैनात रहेंगे।

अखिलेश यादव ने कहा कि जिला प्रशासन को पूरे कार्यक्रम की जानकारी दे दी गई थी। रामपुर में पीडब्ल्यूडी के गेस्ट हाउस में रुकना था। इसके बाद प्रशासन ने किसी निजी होटल में रुकने के लिए कहा। हम उसपर भी राजी थे। रामपुर जिला प्रशासन ने ऐसा माहौल बनाया ताकि हम जा न पाएं। सरकार हमें वहां जाने से रोकने का काम कर रही है। डीएम तो सरकार को खुश करने काम कर रहे हैं। जिला प्रशासन की तरफ से ऐसा माहौल बनाया गया कि मैं आऊंगा तो दंगा होगा।

अखिलेश यादव ने कहा कि जितना रामपुर के सांसद आजम खां को परेशान किया जा रहा है, उतना किसी भी नेता को परेशान नहीं किया है। देश के राजनैतिक इतिहास में किसी भी नेता पर ऐसे मुकदमे दर्ज नहीं हुए होंगे। उनकी यूनिवर्सिटी को खत्म करने के लिए पॉलिटिकल मुकदमें लगाए गए हैं। पूरी पार्टी आजम खां के साथ खड़ी हैं। मुझे नहीं लगता कि मुझे 13 और 14 को रामपुर आने से रोका जाएगा।