उत्तर प्रदेश के हमीरपुर में 1 बजे तक 22.8 प्रतिशत मतदान

0
58

लखनऊ : उत्तर प्रदेश की हमीरपुर विधानसभा सदर पर सोमवार को उपचुनाव में सुबह सात बजे से मतदान जारी है। शुरुआत में बारिश और ईवीएम की खराबी ने रफ्तार थामने की कोशिश की लेकिन बाद में मतदाता बूथों पर पहुंच रहे हैं और 1 बजे तक यहां पर 22.8 प्रतिशत तक मतदान हो गया है।

संयुक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी रमेश चन्द्र राय ने बताया, सुबह बारिश की वजह से मतदान शुरुआत में धीमा हो गया था, लेकिन जैसे ही बारिश थमने लगी तो लोग आने लगे। यहां पर 1 बजे तक 22.8 प्रतिशत मतदान हो गया है।

सोमवार सुबह पांच बजे से हो रही बारिश ने मतदाता की राह में रोड़े अटकाने का काम किया था। काफी देर तक बूथों पर सन्नाटा नजर आया। इसके अलावा यहां बाढ़ के कारण भी मतदान प्रभावित हो रहा है। वहीं शुरुआती दौर में 14 बूथों पर ईवीएम में खराबी के चलते उन्हें बदला गया। इसके अलावा बूथों पर छह कंट्रोल यूनिट, 8 वीवीपैट भी बदले गए। इसके चलते इन केंद्रों में मतदान देरी से शुरू हो सका।

बाढ़ग्रस्त क्षेत्र में हालांकि मतदान को लेकर परेशानियां बनी हैं लेकिन प्रशासन ने मतदाताओं को बूथों तक लाने के लिए नाव के इंतजाम किए हैं। बारिश थमने के बाद मतदान की गति बढ़ने की उम्मीद है।

बाढ़ की चपेट में आए बूथ में पानी उतरने से दलदल सी स्थिति में वोटर जाने से कतराते नजर आए। बूथों पर कुछ अंतराल में एक दो मतदाता पहुंच रहे हैं। चार गांवों में ग्रामीणों ने विकास कार्यों की मांग करते हुए मतदान का बहिष्कार कर दिया तो अफसर उन्हें मनाने में जुटे हैं।

ज्ञात हो कि हमीरपुर सदर सीट भाजपा विधायक अशोक कुमार सिंह चंदेल को हत्या के मामले में आजीवन कारावास के बाद उनकी विधानसभा सदस्यता रद्द होने से रिक्त हुई सीट के इस उपचुनाव में कुल नौ प्रत्याशी मैदान में हैं, जिसमें भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से युवराज सिंह, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) से नौशाद अली, समाजवादी पार्टी (सपा) से डॉ. मनोज प्रजापति, कांग्रेस से हरदीपक निषाद और भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) से जमाल आलम मंसूरी प्रमुख हैं। चार निर्दलीय प्रत्याशी भी मैदान में हैं।