देहरादून| उत्तराखंड में शेरवुड कॉलेज के दो शिक्षकों को एक साल जेल की सजा सुनाई गई है। इन शिक्षकों को पिकनिक पर गए छात्रों के प्रति अपने कर्तव्यों का निर्वहन न करने का दोषी पाया गया जिस दौरान एक हादसे में ट्रैक्टर ट्रॉली के पलटने से दो छात्रों की मौत हो गई थी। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।
2010 में 42 छात्रों का समूह नैनीताल जिले के सीतावनी में पिकनिक के लिए गया था। इनके साथ दो शिक्षक आशीष द्विवेदी और रोहित जलाल भी थे। इस दौरान बच्चे ट्रैक्टर ट्रॉली की सवारी कर रहे थे जो अचानक पलट गई जिससे दो बच्चों की मौत हो गई और सात घायल हो गए।
हादसे में मारे गए हलद्वानी के अनमोल भट्ट (14) और कानपुर के इब्राहीम अंसारी (14) के माता-पिता ने ट्रैक्टर के चालक आनंद और दोनों शिक्षकों के खिलाफ मुकदमा किया था।
अधिकारी ने बताया कि न्यायिक दंडाधिकारी मंजू देवी ने अभियोजन पक्ष से सहमति जताई कि घटना के दौरान शिक्षकों का व्यवहार संवेदनहीन था और उन्होंने दोनों शिक्षकों व ड्राइवर को घटना का दोषी ठहराया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here