share market

मुंबई :अगले सप्ताह शेयर बाजार की चाल आर्थिक आंकड़े, प्रमुख कंपनियों के वित्त वर्ष 2018-19 की तीसरी तिमाही के नतीजे, वैश्विक बाजारों के रुख, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) और घरेलू संस्थागत निवेशकों (डीआईआई) द्वारा किए गए निवेश, डॉलर के प्रति रुपये की चाल और कच्चे तेल की कीमतें मिलकर तय करेंगी। अगले हफ्ते जिन प्रमुख कंपनियों के तिमाही नतीजे जारी होंगे, उनमें आयशर मोटर्स चालू वित्त वर्ष की अपनी अक्टूबर-दिसंबर तिमाही के नतीजे सोमवार (11 फरवरी) को घोषित करेगी।

हिंडाल्को इंडस्ट्रीज और सन फार्मास्यूटिकल्स इंडस्ट्रीज अपने अक्टूबर-दिसंबर तिमाही के नतीजे मंगलवार (12 फरवरी) को जारी करेंगे। बॉश और ओएनजीसी अपने अक्टूबर-दिसंबर तिमाही के नतीजे गुरुवार (14 फरवरी) को जारी करेंगे।

आर्थिक मोर्चे पर, देश के औद्योगिक उत्पादन के दिसंबर के आंकड़े मंगलवार (12 फरवरी) को जारी किए जाएंगे। औद्योगिक उत्पादन की वृद्धि दर में नवंबर में तेज गिरावट दर्ज की गई थी और यह साल-दर-साल आधार पर 0.5 फीसदी पर था, जबकि इसके पिछले महीने यह 8.4 फीसदी थी।

थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) पर आधारित मुद्रास्फीति के जनवरी के आंकड़ों की घोषणा गुरुवार (14 फरवरी) को की जाएगी।

राजनीतिक मोर्चे पर, संसद में चल रहे बजट सत्र पर निवेशकों की नजर बनी हुई है। नरेंद्र मोदी सरकार का आखिरी संसद सत्र – बजट सत्र 31 जनवरी से शुरू हुआ है, जो 13 फरवरी को खत्म होगा।

वैश्विक मोर्चे पर, जनवरी के लिए चीन के मुद्रास्फीति के आंकड़ों की घोषणा शुक्रवार (15 फरवरी) को की जाएगी। जापान के औद्योगिक उत्पादन के दिसंबर के आंकड़ों की घोषणा भी शुक्रवार (15 फरवरी) को की जाएगी। अमेरिका के खुदरा बिक्री के दिसंबर के आंकड़ों की घोषणा गुरुवार (14 फरवरी) को की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here