चंडीगढ़ : पंजाब में स्थिति नियंत्रण में है और राज्य में स्थित सभी 98 डेरा सच्चा सौदा केंद्रों की पुलिस द्वारा तलाशी ली गई है। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शनिवार को यह जानकारी दी।
हरियाणा में डेरा समर्थकों द्वारा मचाए गए उत्पात और हिंसा के एक दिन बाद यहां संवाददाताओं से बात करते हुए सिंह ने कहा कि राज्य में कहीं भी हिंसा के कारण किसी मौत की खबर नहीं है।
मुख्यमंत्री ने कहा, राज्य में न तो किसी की जान गई है और न ही कोई गोलीबारी की घटना हुई है। पंजाब के सात लोगों की मौत पंचकूला में हुई है।
उन्होंने कहा कि शुक्रवार के बाद 52 छोटी-मोटी घटनाएं हुई हैं।
हरियाणा के पंचकूला शहर में सीबीआई की अदालत में 2002 के मामले में दुष्कर्म और यौन उत्पीड़न का दोष साबित होने के बाद धर्मगुरु के अनुयायियों ने इस क्षेत्र में उत्पात मचाया और हिंसा की।
इस हिंसा में पंचकूला में 229 लोगों की मौत हो गई, जबकि 250 अन्य घायल हो गए।
उपद्रवी डेरा अनुयायियों ने वाहनों और संपत्तियों को आग के हवाले कर दिया।
कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए सुरक्षा बलों की तारीफ करते हुए सिंह ने हरियाणा सरकार को फैसले के बाद पंचकूला में हजारों डेरा समर्थकों के इकट्ठा होने देने के लिए दोषी ठहराया।
उन्होंने कहा, इतने सारे लोगों को जुटने देना एक गलती थी। आपको फैसले के बाद प्रतिक्रिया को लेकर तैयार रहना चाहिए थे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि तीन शहरों – मुक्तसर, फरीदकोट और संगरूर से कर्फ्यू हटा लिया गया है, जबकि सात शहरों – भठिंडा, मोगा, फिरोजपुर, अबोहर, जैतु और कोतकापुरा में यह जारी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here