पणजी। गोवा विधानसभा के उपाध्यक्ष माइकेल लोबो ने सोमवार को कहा कि जरूरत पड़ी तो गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर को इलाज के लिए अमेरिका भेजा जा सकता है। अग्न्याशय (पैंक्रियाज) संबंधी रोग से पीड़ित पर्रिकर का इस समय मुंबई के लीलावती अस्पताल में इलाज चल रहा है।
लोबो ने प्रदेश विधानसभा परिसर में पत्रकारों से कहा, हमें उनकी जरूरत है। हम जो कुछ भी संभव होगा, करेंगे। जरूरत पड़ी तो उन्हें अमेरिका भी ले जाया जा सकता है।
मनोहर पर्रिकर को अग्न्याशय में थोड़ी तकलीफ के कारण 15 फरवरी को लीलावती अस्पताल ले जाया गया। अस्पताल के सीएमओ ने शनिवार को पर्रिकर की कोई सर्जरी होने की बात का खंडन किया और उनके स्वास्थ्य में सुधार होने की बात कही।
इसके बाद रविवार को भी अस्पताल की ओर से जारी बयान में कहा गया कि पर्रिकर की स्थिति में सुधार हुआ है। अस्पताल ने किसी भी प्रकार की प्रतिकूल स्वास्थ्य रिपोर्ट की अफवाहों को खारिज किया।
भाजपा कार्यकर्ता सुनील देसाई ने 17 फरवरी और 19 फरवरी को दो मौकों पर गलत खबरें फैलाने को लेकर अज्ञात लोगों के खिलाफ पोंडा थाने में शिकायत दर्ज करवाई है।
देसाई ने कहा, मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य को लेकर कुछ लोग गलत खबरें फैला रहे हैं और मेरे नाम से लोगों को गुमराह कर रहे हैं।
सोशल मीडिया पर उक्त दो दिन प्रसारित संदेश में मुख्यमंत्री की हालत को लेकर गंभीर चिंता जाहिर की गई थी। लेकिन मुख्यमंत्री कार्यालय और भाजपा नेताओं ने इन खबरों का खंडन करते हुए इन्हें गलत बताया है।
 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here