मुंबई, 10 सितंबर (आईएएनएस)। महाराष्ट्र के परभणी में सोमवार को पेट्रोल की कीमतें 89.97 रुपये तक पुहंच गई, जो भारत में सर्वाधिक है।

तेल की बढ़ी कीमतों के विरोध में विपक्षी दल कांग्रेस द्वारा आहूत राष्ट्रव्यापी बंद के मद्देनजर यहां रोल रोको आंदोलन चलाया।

परभणी जिला पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन (पीडीपीडीए) के अध्यक्ष संजय देशमुख ने कहा कि अब जबकि पेट्रोल 90 रुपये प्रति लीटर (89.97 रुपये) के आंकड़े को छूने के करीब है, सोमवार को डीजल की कीमत 77.92 रुपये हो गई।

ऑल इंडिया पेट्रोल डीलर्स एसोसिएशन (एआईपीडीए) के प्रवक्ता अली दारुवाला ने बताया कि विभिन्न स्थानीय करों को जोड़कर महाराष्ट्र में कहीं और पेट्रोल की कीमत 88 रुपये और डीजल की कीमत 76 रुपये है।

महाराष्ट्र के विभिन्न हिस्सों में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना को छोड़कर सभी पार्टियां बढ़ी कीमतों को लेकर आहूत विरोध प्रदर्शन में शामिल हुई हैं।

महाराष्ट्र कांग्रेस अध्यक्ष अशोक चव्हाण और मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष संजय निरुपम ने हजारों कार्यकर्ताओं का अंधेरी स्टेशन बस डिपो के बाहर विरोध प्रदर्शन करने के लिए नेतृत्व किया और बाद में वे रेलवे पटरियों पर पहुंच गए और सरकार विरोधी नारे लगाने लगे।

जैसा कि पुलिस ने अंधेरी में कड़ी सुरक्षा एवं व्यवस्था कर रखी थी। पूर्व मंत्री नसीम खान, माणिकराव ठाकरे, सुरेश शेट्टी सहित कई नेता विरोध प्रदर्शन में शामिल हो गए।

हालांकि, उपनगरीय ट्रेनें, बेस्ट बसें, स्कूल और कॉलेज सामान्य रूप से संचालित हो रहे हैं। फिर भी कई इलाकों में दुकानें और वाणिज्यिक प्रतिष्ठान बंद रहें।

राज ठाकरे के नेतृत्व वाली महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के कार्यकर्ताओं ने मुंबई, ठाणे, पालघर, पुणे, नासिक और राज्य के अन्य क्षेत्रों में भी आक्रामक विरोध प्रदर्शन किए।

बंद को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, (एनएसपी) समाजवादी पार्टी, जनता दल (एस), आरपीआई (जी), पेजन्ट एंड वर्कर्स पार्टी, वामपंथी दल, स्वाभिमानी शेतकरी पार्टी, पीपुल्स रिपब्लिकन पार्टी का समर्थन हासिल है।

–आईएएनएस

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here