नीट परीक्षा में अपनी पसंद का केंद्र चुनने का मौका

0
276

नई दिल्ली : नीट जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं में छात्रों को अपनी पसंद का परीक्षा केंद्र चुनने की सुविधा दी गई है। कोरोना संक्रमण की आशंका को ध्यान में रखते हुए अब अधिकांश छात्रों को प्रवेश परीक्षाएं देने के लिए दूसरे शहरों में नहीं जाना पड़ेगा। ऐसे छात्र जो फॉर्म भर चुके हैं, उन्हें भी अपनी पसंद का परीक्षा का केंद्र चुनने का एक और अवसर दिया जाएगा।

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने शुक्रवार को इस विषय में एक आधिकारिक सूचना जारी की। एनटीए के महानिदेशक विनीत जोशी ने कहा, नीट परीक्षा में शामिल होने वाले छात्र परीक्षा केंद्र व परीक्षा के शहर का विकल्प भरकर ऑनलाइन फॉर्म जमा करा सकते हैं। इसके लिए एनटीए ने वेबसाइट पर 31 मई तक का समय दिया है। छात्र यह जानकारी 31 मई शाम 5 बजे तक अपडेट कर सकते हैं। वहीं फीस 31 मई रात 11 बजकर 50 तक जमा कराई जा सकती है।

इसी तरह जेईई की मुख्य प्रवेश परीक्षा समेत विभिन्न शैक्षणिक कार्यक्रमों की प्रवेश परीक्षा में यह सुविधा दी जाएगी। एनटीए ने इसके लिए आवश्यक प्रावधान किए हैं। छात्रों को परीक्षा केंद्रों की उपलब्धता के आधार पर उनका नजदीकी परीक्षा केंद्र आवंटित किया जाएगा।

गौरतलब है कि जेईई एवं नीट की परीक्षा की तिथियां घोषित कर दी गई हैं। 18 से 23 जुलाई के बीच जेईई मेन की परीक्षाएं ली जाएंगी। वहीं 26 जुलाई को नीट की परीक्षा ली जाएगी। इनके अलावा अब जेईई एडवांस परीक्षा की तारीख भी घोषित कर दी गई है। यह परीक्षा 23 अगस्त को ली जाएगी।

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा, जेईई एडवांस की परीक्षा 23 अगस्त को ली जाएगी। छात्रों को काफी उत्सुकता थी और उनकी मांग थी कि जेईई एडवांस परीक्षा की तिथि घोषित की जाए, इसी को देखते हुए हमने यह तिथि घोषित की है।

मंत्री रमेश निशंक ने इससे पहले, 5 मई को देशभर के छात्रों से वेबिनार के माध्यम से परीक्षाओं के संदर्भ में चर्चा कर चुके हैं। छात्रों के साथ चर्चा के क्रम में उन्होंने जेईई एवं नीट की परीक्षा की तिथियों की घोषणा भी की थी।

केंद्रीय मंत्री ने कहा था, जेईई मेन की परीक्षाएं 18 से 23 जुलाई तक होंगी। नीट प्रतियोगी परीक्षा के लिए 16.84 लाख अभ्यर्थियों ने फॉर्म भरा है, यह परीक्षा 26 जुलाई को आयोजित की जाएगी। जेईई मेन की परीक्षाएं करवाए जाने के बाद जेईई एडवांस की परीक्षाएं 23 अगस्त को आयोजित की जाएंगी।

इससे पहले, कोरोना वायरस संक्रमण के खतरे को देखते हुए नीट परीक्षाएं भी स्थगित करने का निर्णय लिया गया था। अप्रैल में नीट परीक्षाओं के लिए एडमिशन कार्ड जारी किए जाने थे, लेकिन ये कार्ड जारी नहीं किए गए और फिर मंत्रालय ने नीट परीक्षाएं स्थगित करने की सूचना जारी कर दी थी।