जेरूशलम। इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतनयाहू ने पश्चिमी तट क्षेत्र में यहूदी बस्ती में फिलिस्तीनी द्वारा किए गए चाकूबाजी हमले की निंदा की है। इस घटना में इजरायल के तीन नागरिकों की मौत हो गई है।
समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, नेतन्याहू ने शनिवार को इस हमले को नफरत से भरे निंदनीय व्यक्ति द्वारा किया गया एक आतंकवाद कृत्य करार देते हुए इसकी निंदा की और साथ ही फिलिस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास से भी इस घटना की निंदा करने का आग्रह किया।
नेतन्याहू ने एक बयान में कहा, सुरक्षा बल सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं और इस घटना के बाद के बाद हम हर जरूरी कदम उठाएंगे।
शुक्रवार रात एक फिलिस्तीनी युवक (20) पश्चिमी तट क्षेत्र के हालामीश बस्ती के एक घर में दाखिल हुआ और एक व्यक्ति, उसकी बेटी और बेटे पर चाकू से हमला कर दिया। उसने पड़ोस में रहने वाले एक शख्स को भी घायल कर दिया। इसके बाद युवक को मार गिराया गया।
एक फेसबुक पोस्ट में इस युवक ने लिखा था कि वह अल-अक्सा मस्जिद में हालिया हिंसा को लेकर अत्यधिक चितिंत है और वह इसकी रक्षा करना चाहता है।
इजरायल के रक्षा मंत्री एविगडोर लिबरमैन ने हालामीश के दौरे पर कहा कि हमलावर के घर को ध्वस्त कर दिया जाएगा।
पूर्वी जेरूशलम स्थित टेंपल माउंट इलाके में भड़के तनाव के बाद से इलाके में हिंसा हो रही है। इसी इलाके में अल अक्सा मस्जिद है जिसमें प्रवेश को लेकर इजरायल के लगाए प्रतिबंध का फिलिस्तीनी विरोध कर रहे हैं। यह प्रतिबंध तीन इजरायली पुलिसकर्मियों की हत्या के बाद लगा है। हिंसा में इजरायली सुरक्षा बलों के हाथों तीन फिलिस्तीनी मारे जा चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here