इस्लामाबाद : पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने गुरुवार को कहा कि भारत ने करतारपुर सीमा को खोले जाने के उनकी पहल को राजनीतिक रंग देने की कोशिश की, जोकि दुर्भाग्यपूर्ण है।

समाचार पत्र डॉन के अनुसार, खान ने अपने कैबिनेट को संबोधित करते हुए कहा, दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से, भारत ने इसे ऐसे पेश किया कि हम इसका राजनीतिक फायदा उठाना चाहते हैं। मेरे शपथ ग्रहण समारोह में जब नवजोत सिंह सिद्धू यहां आए थे तब हमने इस बारे में चर्चा किया था।

उन्होंने कहा, भारतीय मीडिया ने करतापुर कॉरिडोर को एक राजनीतिक रंग दे दिया, इससे ऐसा लगा कि हम राजनीतिक फायदा उठाना चाहते थे। यह सच नहीं है। हमने ऐसा किया क्योंकि यह पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के घोषणा पत्र में था।

उन्होंने कहा, अगर किसी का धार्मिक स्थल पाकिस्तान में है, तो हमें उन्हें सुविधा पहुंचानी चाहिए। हम कुछ भी नया नहीं कर रहे हैं, ये चीजें हमारी घोषणा पत्र का हिस्सा है।

खान ने कहा, सिख समुदाय ने इस पहल की काफी सकारात्मक प्रतिक्रिया दी है। करतारपुर उनके लिए वैसा ही है जैसा हमारे लिए मदीना है।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि वह उम्मीद करते हैं कि भारत भी इस पहल पर सकारात्मक प्रतिक्रिया देगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here