चंडीगढ़। हरियाणा और पंजाब के मल्टीप्लेक्स और सिनेमाघरों के अंदर और बाहर तैनात सशस्त्र पुलिसकर्मियों और निजी रक्षकों के बीच गुरुवार को फिल्म पद्मावत्त की स्क्रीनिंग दर्शकों की अच्छी प्रतिक्रिया के साथ शुरू हुई।
सुरक्षा कर्मियों को मॉल और सिनेमा हॉल के बाहर तैनात किया गया है, जहां फिल्म बुधवार से प्रदर्शित की जा रही है। हरियाणा और पंजाब पुलिस बुधवार को दिल्ली के पास गुरुग्राम में हुई हिंसा के मद्देनजर कोई जोखिम नहीं लेना चाहतीं।
सिनेमा हॉल प्रबंधकों ने कहा कि फिल्म को लोगों से अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है।
हरियाणा के सिरसा शहर में एक सिनेमा हॉल के मालिक ने कहा, हम आम दिनों में रोजाना किसी फिल्म के 5-6 शो दिखाते हैं। लेकिन, अधिक मांग को देखते हुए हम पद्मावत के 12 शो कर रहे हैं।
हरियाणा के अन्य स्थानों पर भी यह फिल्म दिखाई जा रही है, हालांकि कुछ सिनेमाघरों और मल्टीप्लेक्स ने हिंसा के खतरों और तनाव के बीच फिल्म नहीं दिखाई।
हरियाणा की भाजपा सरकार ने पहले राज्य में फिल्म की स्क्रीनिंग पर प्रतिबंध लगा दिया था, लेकिन सर्वोच्च न्यायालय ने प्रतिबंध पर रोक लगा दी और फिल्म को रिलीज करने का निर्देश दिया।
फिल्म की स्क्रीनिंग अमृतसर, जालंधर, लुधियाना, पटियाला और पंजाब के अन्य स्थानों में सख्त सुरक्षा के बीच हो रही है।
पंजाब और हरियाणा की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में फिल्म को दर्शकों की अच्छी प्रतिक्रिया मिली है।
शहर की निवासी गुड्डी ठाकुर ने कहा, हम महिलाओं का एक समूह हैं, जो इस फिल्म को देखने जा रहे हैं- पहला दिन, पहला शो। हालात नियंत्रित करने के लिए सिनेमाघरों के बाहर पर्याप्त सुरक्षा और मीडिया है।
 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here