सैन फ्रांसिस्को : सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक ने कथित तौर पर उसके एक पूर्व कर्मी के उस पोस्ट को अस्थाई तौर पर हटा दिया है, जिसमें उसने फेसबुक पर अश्वेतों से समस्या होने का आरोप लगाया था।

सीएनईटी में मंगलवार को प्रकाशित एक रपट के अनुसार, फेसबुक के ग्लोबल इंफ्लुएंसर्स में स्ट्रेटेजिक पार्टनर मैनेजर रह चुके मार्क लकी के पोस्ट में फेसबुक पर उसके अश्वेत कर्मियों और उपयोगकर्ताओं का समर्थन करने में नाकाम रहा है।

पोस्ट के अनुसार, अश्वेत उपयोगकर्ताओं को लगता है कि किसी अन्य संगठन की अपेक्षा उनकी सामग्री या पोस्ट को हटाए जाने की संभावना अधिक होती है।

लकी ने कहा, फेसबुक ने कंपनी में चुनौतीपूर्ण भेदभाव करते हुए मेरे पोस्ट हटा दिए, ताकि उपयोगकर्ता मेरा पोस्ट न पढ़ सकें और न ही शेयर कर सकें। इससे मेरे तथ्य प्रमाणित हो गए हैं।

फेसबुक के अनुसार, वह जल्द ही लकी के पोस्ट रीस्टोर कर देगी।

फेसबुक के एक प्रवक्ता के अनुसार, मार्क लकी के पोस्ट हमारे सामुदायिक मानकों का उल्लंघन नहीं करते हैं और हमारी वेबसाइट पर उपलब्ध हैं। हम मामले की जांच कर रहे हैं।

फेसबुक को इससे पहले भी ऐसे मामलों का सामना करना पड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here