शिलांग: मेघालय विधानसभा चुनाव के लिए रविवार को प्रचार अभियान का समापन हो गया।
राज्य में 60 सदस्यीय विधानसभा की 59 सीटों के लिए मतदान मंगलवार को होगा। मतगणना तीन मार्च को होगी।
राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के उम्मीदवार जोनाथन संगमा के निधन के कारण विलियमनगर सीट पर चुनाव स्थगित कर दिया गया है। ईस्ट गारो हिल्स जिले के साविलगरे इलाके में 18 फरवरी को हुए एक विस्फोट में संगमा का निधन हो गया था।
इस बार कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने आक्रामक चुनाव प्रचार किए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित और कई अन्य भाजपा नेताओं ने अपनी पार्टी के पक्ष में राज्यभर में प्रचार किया है।
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद, सांसद शशि थरूर के अलावा असम के पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगोई और केरल के पूर्व मुख्यमंत्री ओमन चांडी ने भी पूरे राज्य में कांग्रेस के लिए प्रचार किया और पार्टी उम्मीदवारों के लिए वोट मांगे।
मुख्यमंत्री मुकुल संगमा सहित कुल 361 उम्मीदवार मैदान में हैं। संगमा पश्चिमी मेघालय के गारो हिल्स क्षेत्र की अंपाती और सोंगसक सीटों से चुनाव लड़ रहे हैं।
प्रमुख उम्मीदवारों में गृहमंत्री होरजू दोंकुपर रॉय लिंगदोह, सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अंप्रीन लिंगदोह, विधानसभा अध्यक्ष अबू ताहिर मंडल, युनाइटेड डेमोक्रेटिक पार्टी से नेता प्रतिपक्ष दोंकूपर रॉय, हिल स्टेट पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के प्रमुख अर्डेट मिलर बासैयामोइत और पूर्व केंद्रीय मंत्री व नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) की अगाथा के. संगमा शामिल हैं।
एनपीपी और भाजपा ने क्रमश: 53 और 47 उम्मीदवार खड़े किए हैं, जबकि युनाइटेड डेमोक्रेटिक पार्टी, हिल स्टेट पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी और गारो नेशनल काउंसिल ने एक क्षेत्रीय गठबंधन बनाया है और इन सभी ने क्रमश: 35, 13 और पांच उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here