अयोध्या : उत्तर प्रदेश के अयोध्या में 16वीं सदी की बाबरी मस्जिद विध्वंस की 26वीं बरसी पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए।

विवादित स्थल पर निगरानी बढ़ा दी गई और प्रमुख मार्गो पर बैरिकेड लगाए गए। लोग रामलला के मंदिर में दर्शन कर रहे हैं। इस मंदिर को जल्दबाजी में मस्जिद के खंडहर में स्थापित किया गया है।

सभी प्रवेश बिंदुओं पर वाहनों की जांच को बढ़ा दिया गया है। विशेष दल शहर में बाहरी व्यक्तियों के दाखिले की निगरानी कर रहे हैं।

पुलिस दल संवेदनशील इलाकों में गश्त कर रहे हैं और निषेधाज्ञा लागू की गई है।

जिले के एक अधिकारी ने आईएएनएस से कहा कि रामलला के दर्शन की अनुमति आम दिनों की तरह है, भीड़ से किसी तरह के नारे नहीं लगाने को कहा गया है।

बम निरोधक व श्वान दस्तों ने प्रमुख मार्गो की तलाशी की है।

इस बीच अयोध्या विवाद के एकमात्र मुस्लिम वादी मोहम्मद इकबाल अंसारी ने कहा कि उन्हें एक धमकी भरा पत्र मिला है।

अंसारी के अनुसार, पत्र में उनसे अदालत में अपने दावे को वापस लेने को कहा गया है, नहीं तो उन्हें खत्म कर दिया जाएगा।

पुलिस ने अंसारी के घर की सुरक्षा बढ़ा दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here