नई दिल्ली : राष्ट्रमंडल खेल-2014 की स्वर्ण पदक विजेता भारतीय निशानेबाज अपूर्वी चंदेला को उम्मीद है कि आगामी विश्व कप में भारतीय निशानेबाज ज्यादा से ज्यादा ओलम्पिक कोटा हासिल करेंगे। विश्व कप 20 फरवरी से यहां डा. कर्णी सिंह शूटिंग रेंज में शुरू होगा।

टोक्यो ओलम्पिक-2020 के लिए विश्व कप में अभी 16 कोटा बचे हुए हैं, जिनमें आठ महिला और आठ पुरुष के हैं।अपूर्वी ने आईएएनएस से कहा कि कि भारतीय निशानेबाज इस बार अपने घरेलू मैदान पर प्रतिस्पर्धा करेंगे और साथ ही वे घरेलू दर्शकों की उम्मीदों का भी आनंद लेंगे।

अपूर्वी ने पिछले साल ही दक्षिण कोरिया के चांगवान में हुई आईएसएसएफ निशानेबाजी विश्व चैम्पियनशिप में टोक्यो में 2020 में आयोजित होने वाले ओलम्पिक खेलों का टिकट हासिल किया था।

26 वर्षीय निशानेबाज ने कहा, इसका फायदा यह होगा कि यहां (भारत) हमें अभ्यास करने का मौका मिल रहा है। लेकिन निश्चित रूप से, यह एक मैच दिन भी है जो कि महत्वपूर्ण है।

उन्होंने कहा, अन्य देश भी हमारी तरह ही मजबूत हैं। इसलिए, हम बेहतरीन प्रदर्शन करने की कोशिश करेंगे। मुझे उम्मीद है कि 2020 में होने वाले टोक्यो ओलंपिक के लिए भारत की ओर से अधिक कोटा आएंगे।

यह पूछे जाने कि क्या घरेलू परिस्थितियों से उन्हें मदद मिलेगी, उन्होंने कहा, मैं 10 मीटर एयर राइफल प्रतिस्पर्धा में भाग लेती हूं जो कि इंडोर होता है। इसलिए परिस्थितियां मेरे लिए ज्यादा मायने नहीं रखती है। लेकिन हां, इसका 50 मीटर प्रतिस्पर्धा में फर्क पड़ता है क्योंकि वहां हवा का प्रभाव होता है।

निशानेबाज ने कहा, लेकिन जिस तरह से हम तैयारी कर रहे हैं, उससे मेरा मानना है कि भारत के लिए सबकुछ अच्छा होगा। अपूर्वी ने कहा कि वह विश्व कप में अपनी रणनीति या तकनीक में बदलाव नहीं करेगी, लेकिन वह ओलंपिक में एक नई किट का विकल्प चुन सकती है।

उन्होंने कहा, मैंने अपनी शैली या तकनीक नहीं बदली है। मैं लगातार शूटिंग कर रही हूं और अच्छे परिणाम हासिल कर रही हूं, इसलिए मैं इससे संतुष्ट हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here